Tik Tok (टिक टॉक) एप हो रहा बैन, इसलिए मद्रास हाईकोर्ट ने सरकार को दिया आदेश

जाना माना एंटरटेनमेंट एप Tik Tok (टिक टॉक) अब बंद होने की कगार पर है। सरकार को अब इसे बंद करने का आदेश मिला है। और यह आदेश दिया है हाईकोर्ट ने। मद्रास हाईकोर्ट ने Tik Tok (टिक टॉक) बैन करने का आदेश दिया है। हालांकि सरकार ने इससे संबंधित मंत्रालय को यह आदेश भेज दिया है, और जांच सरकार की तरफ से चल पड़ी है।

क्या है Tik Tok (टिक टॉक) एप

यदि आप नहीं जानते कि Tik Tok (टिक टॉक) क्या है? तो हम आपको बता दें कि टिक टॉक एक एंटरटेनमेंट एप है, जो आपको आसानी से आपके एंड्राइड प्ले स्टोर में मिल जाएगा। वैसे तो हर कोई इस ऐप के बारे में जानता है। इस एप में लोग अपनी वीडियो डालते हैं। इस ऐप में 15 सेकंड की वीडियो डाली जाती है। किसी गाने या डायलॉग की धुन पर लिप्सिंग की जाती है। लोग अजीब अजीब की तरह की हरकतें इस पर करते हैं। देखते ही देखते यह इतना पॉपुलर हो गया कि एक अरब से ज्यादा लोग इसे अपने फोन में रखे हुए हैं। तो वहीं लाखों करोड़ों लोग इस पर अपनी वीडियो डाल रहे हैं। Tik Tok (टिक टॉक) एप पर ज्यादा फैन फॉलोइंग वाले लोगों को ब्राउन ब्राउन मिल जाता है। वहीं कुछ लोग इससे पैसे भी कमा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : 60 फीट गहरे बोरवेल में गिरी 8 साल की बच्ची, सेना ने संभाला मोर्चा, ऑपरेशन जारी

कहाँ से आया ये टिक टॉक

आपने म्यूजिकली का नाम सुना होगा। यदि आप टिक टॉक यूजर है तो आप म्यूजिकली एप को भी जानते होंगे। 2014 में म्यूजिकली की शुरुआत चाइना की एक कंपनी ने की थी। धीरे-धीरे यह इंडिया आया, और 2017 में म्यूजिकली को एक Tik Tok (टिक टॉक) नाम की कंपनी ने खरीद लिया। यह कम्पनी भी इसी तरह काम करती थी, और म्यूजिकली ऐप का टिक टॉक में विलय हो गया। अपने शानदार फीचर्स और यूजर्स को पूरी आजादी मिलने के कारण यह खूब पॉपुलर हुआ।

आज भी लाखों करोड़ों लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। कुछ लोग देखने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं। तो कुछ लोग इस पर वीडियो बनाते हैं। कुछ लोग पैसे कमाते हैं तो कुछ लोग पॉपुलरटी बटोरते हैं। अब ऐसे में सवाल यह खड़ा होता है कि आखिर सरकार और हाई कोर्ट इसे क्यों बंद करना चाहते हैं?

यह भी पढ़ें : चैत्र नवरात्रि का महत्व और इससे जुड़ी 10 रहस्यमयी बातें, जो हिन्दू को जानना जरूरी है

इसलिए बंद (बैन) हो रहा Tik Top (टिक टॉक) एप

दरअसल इसे ना तो सरकार बंद करना चाहती है, और ना ही हाईकोर्ट। इसको लेकर मदुरई के एक वकील मुथू कुमार ने हाईकोर्ट में एक याचिका डाली थी। जिसमें एंटरटेनमेंट ऐप Tik Tok (टिक टॉक) पर सेक्सुअल और अश्लील इशारे, वीडियोस की भरमार का जिक्र किया था। मुथुकुमार ने कोर्ट में याचिका दायर करते हुए कहा था, कि इससे समाज में अश्लीलता बढ़ रही है। और लोग अपराध भी कर रहे हैं। अनजाने में हो रहे यह अपराध की लोगों को सजा मिल रही है। ऐसे में सरकार को चाहिए कि इस ऐप पर जल्द से जल्द पाबंदी लगा दी जाए।

यह भी पढ़ें : चप्पल में छुपा कर ले जाता था सोने के बिस्किट, सीआईएसफ ने मुंबई एयरपोर्ट से पकड़ा

तो क्या है हाइकोर्ट का आदेश

मद्रास हाईकोर्ट ने इसकी सुनवाई करते हुए। इसका आदेश केंद्र सरकार को भेजा है। केंद्र सरकार ने भी इस को आगे बढ़ाते हुए इंफॉर्मेशन और टेक्नोलॉजी से जुडे मंत्रालय को भेजा है। मामला जब चर्चाओं में आया तो इस पर Tik Tok (टिक टॉक) ने भी अपना आधिकारिक बयान साझा किया।

“टिक टॉक का कहना है कि यदि ऐसा कुछ हो रहा है तो वह अपने फीचर्स में और भी बदलाव करेंगे. ताकि समाज को किसी प्रकार का नुकसान ना हो”

वहीं गूगल ने भी इस पर अपना बयान जारी करते हुए कहा है कि

“अभी तक उन्हें कोर्ट और सरकार से इसे बंद करने का आदेश नहीं मिला है. यदि ऐसा कोई आदेश मिलेगा तो उस पर कार्यवाही करेंगें।

लेकिन इतना तय है. कि कोर्ट और सरकार के हस्तक्षेप के कारण Tik Tok (टिक टॉक) पर संकट खड़े हुए हैं। हो सकता है यह एप बंद हो जाए या फिर इसे इसका भारी भरकम नुकसान चुकाना पड़े। यदि आप भी टिक टॉक पर वीडियो बना रहे हैं, तो आप भी ध्यान रखिए कि अश्लीलता से जुड़ी कोई भी ऐसे मुद्दे पर वीडियो ना डालें जो समाज के लिए हानिकारक हो सकती है।

Tik Tok (टिक टॉक) बना लोगों का दुश्मन

टिक टॉक के कारण लगातार अपराध बढ़ते जा रहे हैं। इसकी खबरें भी हमें कहीं ना कहीं पढ़ने को मिल जाती हैं। बीते दिनों सहारनपुर में टिक टॉक पर देसी कट्टे दिखाती हुई वीडियो बनाने के मामले में एक युवक को जेल हुई है। इसके पहले तमिलनाडु में अपने दोस्त के साथ वीडियो बनाने के दौरान एक विशेष समुदाय के खिलाफ गलत बोलने पर हिंसा भड़क उठी। इस दौरान एक की मौत भी हुई थी। इसके अलावा तमाम ऐसे मामले हैं।

जिनके कारण Tik Tok (टिक टॉक) अब कटघरे में आ गया है। और साथ ही इसे यूज करने वाले लोग भी। ऐसे में अब आपको सावधान हो जाना चाहिए, और यदि टिक टॉक पर अभद्र या सेक्सुअल कंटेंट आ रहे हैं तो आपको भी इस से किनारा कर लेना चाहिए। और यदि आप इस पर वीडियो डालते हैं तो इन सब चीजों से परहेज रखें।

आप हमें कमेंट करके हमारी खबर के बारे में अपनी राय रख सकते हैं। और यदि आपको हमारी ये ख़बर अच्छी लगी हैं, और ऐसीं खबरें आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारा फेसबुक पेज Action News India को लाइक कर सकते हैं। यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं। और ट्विटर पर हमें फॉलो कर सकते हैं। ताकि तभी हमारी सारी खबरें आप तक तत्काल पहुंचे, और आप उनका आनंद उठा सकें।

Ashutosh Nayak

आशुतोष नायक जानें माने युवा पत्रकारों में से एक हैं। यह एक्शन न्यूज़ डॉट इन (https://actionnews.in/) के सह संस्थापक हैं। वह मुख्य हैडलाइन समाचारों को लिखने के साथ साथ यहां प्रकाशित होने बाले समाचारों का सम्पादन भी करते हैं। इसके अलावा वह एसईओ (SEO) एक्सपर्ट भी हैं। उनका मानना है कि समाचार न सिर्फ सूचना का आधार हों बल्कि लोगों को जागरूक करने में भी अग्रणी हों।

Bitnami