Rishabh Pant Biography in Hindi ऋषभ पंत अनटोल्ड स्टोरी

Rishabh Pant biography in hindi
Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

Rishabh Pant Biography in Hindi : आपने तमाम सफल लोगों की बायोग्राफी पड़ी होगी। उन सभी की बायोग्राफी के पीछे एक राज होता है, और वह राज होता है। उनके संघर्ष की कहानी का। ऋषभ पंत भी इससे हटकर नहीं हैं। उनकी भी एक संघर्ष की कहानी है। आज उन्हें सफलता मिलने के बाद भले ही लाखों करोड़ों लोग जान रहे हो, लेकिन जब वह संघर्ष के दौर से गुजर रहे थे, तब उनकी क्या हालत थी। यह जानना बेहद जरूरी है, लेकिन उसके पहले आप उनके बारे में मोटा माटी जानकारी जरूर ले ले। यानी उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में जरूर जान लें।

Rishabh Pant Biography (ऋषभ पंत की जीवनी)

Biography (जीवनी)
Name

पूरा नाम

Rishabh Pant

ऋषभ पंत

Surename

उपनाम

Rishu

रिशु

Business

व्यवसाय

International Cricketer

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर (भारतीय)


Body Structure (शारीरिक संरचना)


Length

लम्बाई (लगभग)

से० मी०- 178 CM
मी०- 1.78 M
फीट इन्च- 5’ 10” Inch
Waight

वजन/भार (लगभग)

60 Kg किलोग्राम
Body Fitness

शारीरिक संरचना (लगभग)

-छाती: 40 इंच inch
-कमर: 30 इंच inch
-Biceps: 12 इंच inch
Eyes Colour

आँखों का रंग

Black

काला

Hair Colour

बालों का रंग

Black

काला


Cricket क्रिकेट


International Match

अंतर्राष्ट्रीय शुरुआत

One Day Match (एकदिवसीय) – 21 अक्टूबर 2018 वेस्टइंडीज के खिलाफ गुवाहाटी में
Test (टेस्ट)– 18 अगस्त 2018 को इंग्लैंड के खिलाफ
T-20 (टी-20)– 1 फरवरी 2017 को इंग्लैंड के खिलाफ बेंगलुरु में
Dress Number

जर्सी न०

# 77 India (भारत)
# 77 IPL (आईपीएल)
Domestic/State Team

डोमेस्टिक/स्टेट टीम

दिल्ली दिल्ली डेयरडेविल्स अंडर-19
Favorite Ball

पसंदीदा गेंद

फुल शॉट, बल्लेबाज
मैदान पर प्रकृति (Nature on field) आक्रामक
Carrier Turning Point

कैरियर टर्निंग प्वाइंट

साल 2016 में अंडर-19 के दौरान विश्व कप में बेहतरीन प्रदर्शन

Rishabh Pant Personal life 


जन्मतिथि

Birthday

5 Fabuary 1990

4 अक्टूबर 1997

Age

आयु (2017 के अनुसार)

23 वर्ष year
Birth Place

जन्मस्थान

हरिद्वार उत्तराखंड भाग, भारत
Zodiac

राशि

तुला
Nationality

राष्ट्रीयता

Indian

भारतीय

Signature

हस्ताक्षर

Home City

गृहनगर

रुड़की , उत्तराखंड, भारत
School/College

स्कूल/विद्यालय

इंडियन पब्लिक स्कूल देहरादून उत्तराखंड
Digree College/

University

महाविद्यालय/विश्वविद्यालय

श्री वेंकटेश्वर कॉलेज दिल्ली और दिल्ली विश्वविद्यालय
Education Qualification

शैक्षिक योग्यता

ग्रैजुएट स्नातक
Family

परिवार

Father (पिता) -राजेंद्र पंत
Mother (माता)–  सरोज पंतSister (बहन)– साक्षी पंथBrother (भाई)
Coach

कोच / संरक्षक (Mentor)

ऋषभ पंत के कोच तारक सिन्हा रहे हैं
Religion

धर्म

Hindu

हिंदू

Cast

जाति

कोरी
Hobbes

शौक

संगीत सुनना, फिल्म देखना घूमना मौज मस्ती करना

Favorite Things   पसंदीदा चीजें


Favorite Player

पसंदीदा खिलाड़ी

विराट कोहली सुरेश रैना राहुल द्रविड़ हरभजन सिंह सचिन तेंदुलकर
Favorite pitch

पसंदीदा क्रिकेट मैदान

Lordas Londan

लॉर्ड्स (लंदन)

Favorite tennis Player

पसंदीदा टेनिस खिलाड़ी

Novak jokovich

नोवाक जोकोविच

Favorite foods

पसंदीदा व्यंजन

Suci, Chienis , curdrizec

सूशी, चाइनीज व्यंजन, कढ़ी चावल

Favorite Actors

पसंदीदा अभिनेता

अमिताभ बच्चन
Favorite actress

पसंदीदा अभिनेत्री

करीना कपूर, Shraddha Kapoor
Favorite movie

पसंदीदा फिल्म

हाउसफुल 3
Favorite song

पसंदीदा गीत

सनम रे
Favorite singer

पसंदीदा संगीतकार

Ar Rahman

ए.आर. रहमान

Favorite books

पसंदीदा पुस्तक

रिच डैड पुअर डैड
Favorite place

पसंदीदा गंतव्य

Venis

वेनिस


Love/Affair/Marrige प्यार/शादी


Marrige Status

वैवाहिक स्थिति

अविवाहित
Girlfriend

गर्लफ्रेंड व अन्य मामले

ऋषभ पंत का अभी ऐसा कोई चक्कर सामने नहीं आया है
Wife

पत्नी

जब शादी नहीं हुई तो पत्नी कहां से आ जाए
Marrige date Anniversary

विवाह तिथि

अरे भैया जब हो जाएगी तो बता देंगे
Chieldrans

बच्चे

हद कर दी यार अब बच्चों के नाम हम कहां से बताएं

Money/Property धन/संपत्ति


Sallery

वेतन (2017 के अनुसार)

रिटेनर फीस– 1 cr. करोड़ रुपए
टेस्ट फीस– 15 lac लाख रुपए
एकदिवसीय (वनडे) फीस– 6 lac. ला
टी 20 फीस– 3 lac लाख रुपए
Net worth

नेट वर्थ (लगभग)

15 cr करोड़ (भारतीय रुपए)

 

ऋषभ पंत Rishabh Pant की रोचक बातें

https://youtu.be/waUvqJYyH9s

एक बार की बात है जब ऋषभ पंत राजस्थान क्रिकेट एकेडमी में पहुंचे। यहां अकैडमी से उन्हें निकाल दिया गया। कारण सिर्फ यह था, कि वह राजस्थान से बलोंग नहीं करते थे। वह तो उत्तराखंड के रहने वाले थे। तो राजस्थान क्रिकेट एकेडमी में कैसे क्रिकेट की शिक्षा लेते, और उन्हें वहां से वापस ही होना पड़ा, लेकिन इससे वह कमजोर नहीं पड़े, बल्कि उन्होंने अपना संघर्ष और भी तेज कर दिया। और बाद में वह दिल्ली क्रिकेट अकैडमी में पहुंच गए। जहां उन्होंने कोच तारक मेहता के निर्देशन में क्रिकेट सीखा।

गुरुद्वारे में रहकर ऋषभ पन्त ने सीखा क्रिकेट

आजकल ऋषभ पंत का परिवार दिल्ली में रह रहा है वह भी एक शानदार मकान में। इसे मकान कहना गलत बात होगी, यह एक शानदार बंगला नुमा हवेली में उनका परिवार रह रहा है। लेकिन यदि इसके पीछे की बात करें, तो एक बार एक टैलेंट हंट के कार्यक्रम में उन्हें दिल्ली क्रिकेट अकैडमी तक पहुंचने की जगह मिली थी। जिसके लिए उन्हें हर सप्ताह में 2 दिन के लिए दिल्ली आना पड़ता था, लेकिन इस दौरान उनके पास दिल्ली में कोई मकान नहीं था। और इतने पैसे भी नहीं थे, कि वह दिल्ली में मकान ले सके और अपना गुजारा कर सके। ऐसे में ऋषभ पंत करते तो क्या करते। बताया जाता है कि इस दौरान वह पास के ही एक गुरुद्वारा में रहकर अपना समय निकाला।

16 साल में रणजी से आये नजर में

कहा जाता है कि ऋषभ पंत बहुत ही मेहनती थे। 15 साल की उम्र में ही उन्होंने क्रिकेट एकेडमी ज्वाइन कर ली थी, लेकिन उन्हें सिर्फ विकेटकीपर आती थी। ऐसे में उनका इंडिया टीम में सिलेक्शन होना बड़े मुश्किल की बात थी, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी, और लगे रहे। उन्होंने कोच के निर्देशानुसार वीडियो देख देख कर क्रिकेट के छोटे-छोटे टिप्स और बारीकियां जानी। जिसके बाद उन्होंने क्रिकेट मैं बल्लेबाजी को भी अपनाना शुरू कर दिया। 16 साल की उम्र में उन्होंने रणजी मैच खेला था। जिसमें उन्होंने मुंबई की टीम को हराया था।

इन्होंने की थी अंदर 19 में खेलने की सिफारिश

रणजी मैच में शानदार खेल देखकर वह राहुल द्रविण  जैसे बड़े क्रिकेटरों की नजर में आ गए। एक बात और है कि वह राहुल द्रविड़ के बहुत बड़े फैन हैं। और इत्तेफाक है कि राहुल द्रविड़ ने ही उनकी अंडर-19 विश्व कप में खेलने की सिफारिश की थी। जिसमें उन्होंने रनों का ढेर लगा दिया। और वह चर्चाओं में आ गए। इसके बाद 2016 में उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में खेला। उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने एक करोड़ 90 लाख रुपए में खरीदा था।

और ऋषभ पंत के ऊपर टूट पड़ा दुख का पहाड़

2017 में आईपीएल मैच के दौरान ऋषभ पंत के पिता जी की अचानक मौत हो गई। इस दौरान पिता की मौत की खबर सुनकर ऋषभ पंत वापस अपने घर पहुंच, और धर्म संकट में फंस गए, कि अब वह अपने परिवार के साथ खड़े हो। या फिर अपनी टीम के लेकिन उनके दादाजी ने उन्हें आत्मबल दिया, और अपनी टीम के साथ ही जाने के लिए कहा। जिसके बाद ऋषभ पंत वापस टीम के पास लौटे। और फिर उन्होंने खेल शुरू किया। उन्होंने अपनी पहली पारी में 56 रन बनाए और उन्होंने अपनी ये पारी अपने पिता को समर्पित की।
हर किसी सफल व्यक्ति के पीछे कोई ना कोई संघर्ष की कहानी जरूर होती है। यहां हम भले ही सारी बातें नहीं बता पाए हो। लेकिन इतना जरूर है कि उन्होंने यहां तक आने के लिए बहुत मेहनत की होगी। यदि आप भी किसी काम में हाथ आजमा रहे हैं। तो आप हार मत मानिए और लगे रहिए आपके पास जो भी संसाधन हो आप उन्हीं से अपना काम शुरू कर दीजिए। आपको जरुर सफलता मिलेगी।

आप हमें कमेंट करके हमारी खबर के बारे में अपनी राय रख सकते हैं। और यदि आपको हमारी ये ख़बर अच्छी लगी हैं, और ऐसीं खबरें आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारा फेसबुक पेज Action News India को लाइक कर सकते हैं। यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं। और ट्विटर पर हमें फॉलो कर सकते हैं। ताकि तभी हमारी सारी खबरें आप तक तत्काल पहुंचे, और आप उनका आनंद उठा सकें।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp