अनुराग शर्मा के कार्यक्रम के बाहर भाजपाइयों द्वारा अर्धनग्न प्रदर्शन के पीछे यह कारण

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

झांसी। झांसी-ललितपुर लोकसभा सीट से ऐतिहासिक जीत के बाद आज अपने क्षेत्र की मऊरानीपुर विधानसभा में पहुंचे नवनिर्वाचित सांसद अनुराग शर्मा का एक तरफ जहां भाजपा कार्यकर्ताओं ने बड़े ही जोश से स्वागत किया, तो वहीं दूसरी तरफ पुलिस उत्पीड़न से परेशान कुछ कार्यकर्ताओं को नवनिर्वाचित सांसद से मिलने से रोक दिया गया तो है 45 से पार टेंपरेचर में अर्धनग्न होकर कार्यक्रम स्थल के बाहर प्रदर्शन करने लगे। और नारेबाजी करने लगे।
झांसी ललितपुर से नवनिर्वाचित सांसद अनुराग शर्मा आज मऊरानीपुर के सर्किट हाउस में पहुंचे थे। और कार्यकर्ताओं से मिल रहे थे। तभी मऊरानीपुर क्षेत्र के गांव कोटरा निवासी दीपक कुशवाहा और ढकरवारा गांव निवासी परशुराम अहिरवार अपने साथियों के साथ सांसद अनुराग शर्मा से मिलने पहुंचे थे, लेकिन उन्हें मिलने से रोक दिया गया। जिससे नाराज होकर उक्त लोग अपने साथियों के साथ कार्यक्रम स्थल के बाहर ही अर्धनग्न होकर प्रदर्शन करने लगे। जिन लोगों ने सांसद के कार्यक्रम के बाहर अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। उसमें भारतीय जनता पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के मंडल अध्यक्ष समेत कई सक्रिय कार्यकर्ता भी शामिल थे।

क्यों किया प्रदर्शन?

प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि बीते दिन मऊरानीपुर पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ता दीपक कुशवाहा को रोककर धमकाते हुए चरस के केस में अंदर कर देने की धमकी दी। बाद में उसका ट्रैक्टर उठाकर थाने लाए और उसमें रेत भर कर उसका ट्रैक्टर सीज कर दिया। पुलिस उत्पीड़न से परेशान दीपक कुशवाहा और उनके साथी पुलिस की करतूत बताने के लिए सांसद से मिलने आए थे, लेकिन उन्हें मिलने से रोक दिया गया तो वह प्रदर्शन करने लगे।

क्या बोले मऊरानीपुर CO ?

जब इस संबंध में “एक्शन न्यूज़ डॉट इन” ने क्षेत्राधिकारी मऊरानीपुर हिमांशु गौरव से दीपक कुशवाहा के द्वारा लगाए गए आरोपों की सच्चाई जाननी चाही तो उन्होंने बताया कि दीपक कुशवाहा के ऊपर खनिज अधिकारी की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज किया गया है, और ट्रैक्टर को सीज किया गया है। क्षेत्राधिकारी ने यह भी बताया कि यह खनिज माफिया हैं, और पुलिस पर अनावश्यक प्रेशर बनाने के लिए यह सब हथकंडे आजमा रहे हैं.

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp