दर्द से तड़प रही महिला की डिलीवरी के लिए नर्स ने मांगे रुपये

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

मऊरानीपुर (झांसी) सरकारी अस्पताल में तैनात नर्स द्वारा सामांय प्रसव के लिये रिश्वत में रुपये मांगे, न देने पर डिलेवरी को मना कर दिया, वापस घर ले जाते समय प्रसव हो गया, गत शुक्रवार के इस प्रकरण का सीधा सम्बंध महिला नेत्री से जुडा होने पर स्टाफ के खिलाफ अधीक्षक ने प्रार्थनापत्र लेने से इंकार करते हुये उसे विभागीय डाक कर्मी के पास भेजते हुये सामुदायिक स्वास्थ अधीक्षक डा0 आर.जी शंखवार ने महिला नेंत्री को आश्वासन दिया कि जांच कमेटी बनाकर पूरे मामले का सच सामने लाया जायेगा जो भी लापरवह या दोषी पाया गया उसके खिलाफ कार्यवाही होगी। साहब के सम्बंधित कर्मी को तलाश कर थक कर बैठी महिला नेत्री ने उच्च स्तरीय लिखा पढी कर कार्यवाही की मांग की है।

ग्राम रेवन निवासी शिवसेना की किसान सेना जिलाअध्यक्ष श्रीमति राजेश कुमारी पत्नी करन सिंह ने बताया कि उसकी बहू आकृति को प्रसव पीडा होने पर गत रोज सुबह दस बजे अस्पताल लेकर आई, बताया कि आकृति को भर्ती कर मौजूद नर्स ने जांच कर बताया कि सामांय प्रसव हो जायेंगा कुछ समय लगेगा।
जिस पर वह काफी देर इंतजार करती रही, इसी बीच स्टाफ बदल गया, आरोप लगाया कि नये महिला स्टाफ ने अपने हिसाब से जांचकर बताया कि प्रसव में परेशानी होगी व पांच हजार रुपये देने पर समान्य प्रसव करवाने की बात कही।
जब उसने अपना परिचय देते हुये निशुल्कः प्रसव करवाने की बात कही तो आरोप के अनुसार नर्स छाया व एक अन्य नाम अझात ने बिना रुपये प्रसव कराने इंकार करते हुये घर वापस जाने की सलाह निशुल्कः दी,
राजेश कुमारी के अनुसार जब वह अपनी गर्भवती बहू आकृति को वापस लेकर घर जा रही थी तभी बीच रास्ते प्रसव हो गया, पूरे अस्पताल से लेकर सी.ओ. एस.डी.एम. सी.एम.ओ. से उच्च स्तरीय लिखापढी कर मानवीय हित में न्याय की मांग करते हुयें दोषी नर्स के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की।
रिपोर्ट- रवि अग्रवाल रठा

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp