बैठक में सैम पित्रोदा के बयान पर रोष जताया

मऊरानीपुर (झांसी) 1984 के सिक्खों के खिलाफ हुये दंगों को लेकर काग्रेंस के नेता सैम पित्रोदा के ब्यान पर विवाद गहराता जा रहा है।

इसका असर मऊरानीपुर में देखा गया भाजपाईयों ने नगर अध्यक्ष नरेन्द्र दमेले की अध्यक्षता में हुई निंदा बैठक में सैम पित्रोदा के ब्यान पर रोष जताते हुये ब्यान वापस लेने के अलावा सिक्ख समाज से सार्वजनिक माफी मांगने की बात कही। जिला उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार पुरवार ने सम्बोधन में कहा कि इस मामले में सैम पित्रोदा को पार्टी से निकाल कर सोनियां गांधी और राहुल गांधी को सार्वजनिक माफी मांगनी चाहिये।

विधान सभा सयांजक महेन्द्र पाठक ने कहा ने राजीव गांधी एवं राहुल गांधी के राजनैतिक गुरु पित्रोदा के ब्यान की निंदा की। बरिष्ठ नेता रामस्वरुप मिश्रा ने काग्रेंस पर लोगों की भावनाओं से खेलने का आरोप लगाया।

महिला नेत्री श्रीमति सरोज दुबे, ब्यापरी नेता अखिलेश सेठ, जिला उपाध्यक्ष विनोद सहगल ने कहा कि पित्रोदा राजीव गांधी के साथी और राहुल गांधी के गुरु है।

अगर गुरु ऐसे है तो शिष्य कैसा होगा कांग्रेस यहीं कर रही है पूरी तरह जनता की भवानाओं के प्रति असम्वेदन शील है। नरेन्द्र दमेले का कहना था कि पित्रोदा काफी बृद्व हो चुके है ऐसे में उन्हैं मानसिक उपचार की जरुरत है क्योंकि ऐसे ब्यान बुद्वि वाला नही दे सकता।

बैठक के बाद सामूहिक रुप से पित्रोदा के पुतले को साकेंतिक रुप में जलाने में बैठक के बाद सामूहिक रुप से वीरेन्द्र अग्रवाल, जयशंकर देवलिया आशुतोष सूरौठिया, रमेश श्रीवास, रामलखन दुबे, हरचरन चौकरया, मनोज मिश्रा, ओमप्रकाश पोतदार, श्रीमति शीला साहू, राजेश बिलांटियां, राकेश सेठिया, उदय सिंह सोलंकी, अशोक गिरी, देशराज सुल्लेरे, अरविंद आर्य, हरीओम यादव, महेश दशाधारी, अभिषेंक बिरथरे, चिंतामन श्रीवास, अशोक वर्मा, दीपक तिवारी, दीनदयाल साहू, दिनेश राजपूत, अम्बादत्त तिवारी, अमित चतुर्वेदी, रोहित सोनी, चचंल कंथरिया, बालकिशुन गोस्वामी, वियोगी समर्पण बिजय नामदेव, लखन तिवारी, सतोंष घटौरिया, चिंतामन श्रीवास, हरीमोहन दुबे, श्रृषि दुबे, मिलन रठा, प्रिन्स नायक, मोनू वर्मा, महेश वर्मा, डा0 आशीष मिश्रा, रामचरण कुशवाहा, लचोरे मौर्य, रामेश्वर अमीन, दीनदयाल साहू, राकेश साहू, गोपाल ताम्रकार, शिवम ताम्रकार,  राकेश राय, राकेश श्रीवास, भास्कर तिवारी, अनुज मिश्रा, जितेन्द्र श्रीवास, शैलेन्द्र भदौरिया, कन्हैयालाल भास्कर, भूपेन्द्र चौरसिया, हरीमोहन दुबे, सहित भारी सख्ंया में भाजपाई मौजूद रहे।

रिपोर्ट- रवि अग्रवाल रठा

Bitnami