गुरसरांय में अखवार वितरक के साथ हुई घटना के विरोध में एक साथ आये पत्रकार, बोले कार्यवाही नहीं तो कप्तान की चौखट पर करेंगे अनशन

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

गुरसरांय (झांसी)। बीते दिन अखवार वितरक के साथ हुई मारपीट और गाली-गलौच की घटना के मामले में पुलिस द्वारा 4 दिन बीत जाने के बाद भी कार्यवाही न किये जाने पर स्थानीय पत्रकार आक्रोशित हो उठे। इस दौरान सभी प्रमुख पत्रकारों ने एक बैठक में शामिल होकर घटना की निंदा करते हुए हर हाल में आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही करवाने की बात कही। इसके बाद सभी पत्रकार थाने पहुँचे। और पत्रकारों की तरफ से प्रभारी थानाध्यक्ष को एक पत्र भी सौंपा गया।
मामला झांसी की तहसील गरौठा के गुरसरांय का है। जहाँ दिनाक 10 जून को सुबह अखबार वितरक अजय वर्मा रोज की भांति अखबार बितरण करने राधा मार्केट गया था। तभी वहां पर पानी भर रहे सोहन लल्ला के पुत्रों ने कुछ कहा सुनी पर अजय वर्मा की जमकर धुनाई कर दी, और जाति सूचक गाली देते हुए जान मारने की धमकी देने लगे। जब अजय वर्मा ने इसकी शिकायत थाने में की तो उसकी नही सुनी गई और उसे भगा दिया।
मारपीट को लेकर पत्रकारों की एक वरिष्ठ पत्रकार राम कुमार सिंह की अध्यक्षता में हुई। जिसमें अजय वर्मा के साथ हुई जातिसूचक मारपीट गाली गलौच और जान से मारने की धमकी को लेकर पत्रकारों ने आक्रोश व्यक्त किया, और थाने में जाकर प्रभारी थानाध्यक्ष को प्रार्थना पत्र दिया। साथ ही पत्रकारों ने कहा की यदि अजय वर्मा के साथ जातिसूचक गाली गलौज मारपीट एवं जान से मारने की धमकी को लेकर अगर न्याय नहीं मिलता है, तो पत्रकार जिला मुख्यालय से लेकर इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से करेंगे और धरना प्रदर्शन भी करेंगे।
बैठक में राष्ट्रीय आंचलिक पत्रकार एशोशिएसन के अध्यक्ष सुखदेव कुमार व्यास, वरिष्ठ पत्रकार अरुण चतुर्वेदी, फूल सिंह परिहार, जयप्रकाश बरसैयां, राजीव अरजरिया , संदीप श्रीवास्तव , अंकित सेंगर, कोशल किशोर,अलख शर्मा, संतोष पांचाल, ब्रॉडकास्ट मीडिया से प्रतिनिधि मुकेश राठौर, वेब मीडिया से प्रतिनिधि आशुतोष नायक आदि पत्रकार उपस्थित रहे।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp