जालौन में गौ हत्या कर गोश्त बनाते पकड़ा परिवार, भारी तनाव

जालौन। जहां एक ओर केंद्र एवं राज्य सरकार गौ रक्षा को लाखों जतन कर रही है वही दूसरी ओर गौ माता के दुश्मन बन उनकी हत्या कर,मास खाने में लगें है एक ऐसा ही मामला
जालौन के कैलिया थाना क्षेत्र के ग्राम सुनाया में देखने को मिला। जहाँ गोवंश के अवशेष और प्रतिबंधित मांस मिलने से ग्रामीण आक्रोशित हो गये और उन्होंने जाम लगा लिया। जाम लगाने के बाद उन्होंने जमकर हंगामा किया। हंगामे की सूचना मिलते ही प्रशासनिक अधिकारी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और उन्होंने मामले को शांत कराने का प्रयास किया। साथ ही प्रतिबंधित मांस और गोवंश के अवशेष को अपने कब्जे में लेकर जांच के लिए भेज दिया, साथ ही इसमें संलिप्त दो लोगों को हिरासत में ले लिया।

सुनाया गांव में आज सुबह उस वक्त भारी हंगामा हो गया, जब सुबह ग्रामीण बाहर निकले और उन्होंने गांव के बाहर गोवंश के अवशेष बिखरे पड़े देखें तो वह आक्रोशित गए और इसकी बारे में अन्य ग्रामीणों के साथ प्रधान को सूचना दी। लेकिन प्रधान सूचना मिलने के बावजूद भी मौके पर नहीं पहुंचे। जिसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा उग्र हो गया और उन्होंने सड़क पर जाम लगा दिया, साथ ही एक गाड़ी में महिला और उसके पुत्र को प्रतिबंधित गोमांस के साथ देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और पकड़े गए महिला और उसके पुत्र को साथ ले जाने लगी, जिस पर ग्रामीणों ने तत्काल कार्यवाही न होने पर आक्रोश व्यक्त किया और पुलिस की गाड़ी को घेरकर पहाड़गांव-कोंच मार्ग पर जाम लगाकर जमकर हंगामा किया। हंगामे की सूचना पर अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश सिंह दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए साथ ही लोगों को शांत कराने का प्रयास किया और कार्रवाई की बात कही। जब पुलिस द्वारा कार्रवाई किए जाने का आश्वासन मिला तब कहीं जाकर ग्रामीणों का आक्रोश शांत हुआ। पुलिस ने पकड़े गई महिला और उसके पुत्र को हिरासत में लेकर के लिए थाने ले आई और उसे पूछताछ कर रही है।

ग्रामीणों का कहना है कि यहां पिछले कई दिनों से गोकशी का गोरखधंधा चल रहा है, लेकिन पुलिस इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। यहां तक कि ग्राम प्रधान भी इसमें शामिल हैं।

वहीं इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक डॉ अवधेश सिंह का कहना है कि मामले की जांच कराई जा रही है साथ ही प्रतिबंधित मांस और गोवंश के अवशेष को लेकर जांच के लिए भेजा जा रहा है। जिसके बाद कार्यवाही की जाएगी।

रिपोर्ट : दुर्गेश कुशवाहा

Bitnami