वोटिंग के बाद गायब हुई EVM मशीन, कुछ इस तरह ढूंढती मिली यूपी पुलिस

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

महोबा । लोकसभा चुनाव 2019 के चौथे चरण में बुंदेलखंड की 4 लोकसभा सीटों पर मतदान था। इस दौरान बुंदेलखंड की 1 सीट के एक बूथ की ईवीएम मशीन गायब हो गई। दावा किया जा रहा है कि ईवीएम मशीन को खोजने के लिए वहां की पुलिस मुनादी करके पता लगाने की कोशिश कर रही है, और जिस किसी को भी मिली हो, उसे वापस करने की गुजारिश कर रही है। ऊपर तस्वीर में जो फोटो आप देख रहे हैं। उसको लेकर ही यह सारे दावे किए जा रहे हैं।
तस्वीर में एक ई रिक्शा टाइप का दिखाई दे रहा है। इसके ऊपर दो तोरी (लाउड स्पीकर) लगे हैं, और इसमें कुछ लोग बैठे हुए हैं। तस्वीर देखकर अनुमान लगाया जा सकता है कि इससे किसी की सूचना यानी मुनादी या एलाउंस करवाया जा रहा है। झांसी से संबंध रखने वाले एक न्यूज़ पोर्टल की खबर पर विश्वास करें वह तस्वीर बुंदेलखंड की महोबा लोकसभा सीट के पनवाड़ी थाना पुलिस द्वारा ईवीएम गायब हो जाने के बाद अलाउंस किए जाने की है। जाहिर है इसी लोकसभा सीट में EVM गायब हुई है। और पुलिस मुनादी के जरिए इसे ढूंढने की कोशिश कर रही है।
बीते दिन यानी 29 अप्रैल को बुंदेलखंड की अन्य 3 लोकसभा सीटों के साथ-साथ इस सीट पर भी मतदान प्रक्रिया चल रही थी। दावा किया जा रहा है कि इस दौरान महोबा जिले के पनवाड़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाली फंदना, बूथ संख्या 127  पर भी मतदान हो रहा था। मतदान हो जाने के बाद शाम को मतदान कार्मिक मशीनों को स्ट्रांग रूम तक ले जाने वाले वाहन का इंतजार कर रहे थे। वाहन आया और उसमें EVM मशीन समेत वीवीपैट मशीन भी रखी गई। लेकिन जब सभी मशीनें स्ट्रांग रूम पहुंची, तो वहां इस बूथ की ईवीएम गायब मिली। जिसके बाद मतदान कार्मिकों में हड़कंप मच गया। इसकी जानकारी जिले के अन्य उच्चाधिकारियों को मिली इस खबर से सभी के हाथ पांव फूल गए। हालांकि कहा जा रहा है कि बाद में ईवीएम मशीन मिल गई है।
यह भी कहा जा रहा है कि इस खबर को प्रकाशित ना किए जाने को लेकर जनपद के उच्चाधिकारियों ने मीडिया के प्रमुख लोगों से भी संपर्क साधा ताकि उनकी फजीहत ना हो, हालांकि कुछ पत्रकारों ने इस खबर को पहले ही प्रकाश में ला दिया। यह खबर महोबा के अलावा बुंदेलखंड के आसपास क्षेत्रों में भी चर्चा का विषय बनी हुई है।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp