आग से झुलसी विवाहिता की मौत, परिजनों का आरोप- दामाद ने जलाकर मारा

कटेरा (झाँसी) स्थानीय कस्बे के सुरईपुरा मोहल्ले में आग से झुलसी 21 वर्षीय विवाहिता को थाना क्षेत्र में कस्बा कटेरा के ससुराल वालों ने 9 माई को ग्वालियर में इलाज के लिए भर्ती कराया। नवविवाहिता अधिक मात्रा में झुलसी होने के कारण शुक्रवार को इलाज के दौरान उसकी माैत हो गई। महिला की मौत के बाद पहुंचे मायके पक्ष के लोगों ने महिला के पति पर आग से जलाकर मारने का आरोप लगाया।

जानकारी अनुसार कस्बा कटेरा में   21 वर्षीय विवाहिता ज्योति पत्नी दीपक अहिरवार आग लगने से बुरी तरह से झुलस गई। ससुराल पक्ष के लोगों ने 9 मई को उसे ग्वालियर ने निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया। जहाँ इलाज के दौरान शुक्रवार  महिला की मौत हो गई।

राजापुर चित्रकूट के निवासी छेदीलाल अहिरवार पुत्र शुकुरु अहिरवार ने बताया कि उसकी पुत्री शादी 1 बर्ष पहले कटेरा निवासी दीपक अहिरवार पुत्र बालकिशन अहिरवार के यहाँ शादी बड़ी ही धूमधाम से हिन्दू रीति रिवाज से की थी। जिसमे तय के हिसाब से ज्यादा दान दहेज दिया था। उसके बाबजूद भी दीपक पुत्र बालकिशन 1लाख रुपये नगद व एक मोटरसाइकिल मांगने लगा। आर्थिक स्थिति ठीक न होने से मांग पूरी नही ही सकी। जिससे बेटी ज्योति को प्रताड़ित करने लगा। जिससे 8 मई को जिंदा जला दिया। व इलाज के लिये ग्वालियर में निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहाँ उपचार के दौरान मौत हो गयी। पिता की तहरीर पर कटेरा पुलिस ने 498ए , 304बी एवं दहेज अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

Bitnami