कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, आखिर क्या है खास जो अब तक नहीं सुना

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली। आज कांग्रेस पार्टी ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस घोषणा पत्र मैं कांग्रेस पार्टी ने किसानों, बेरोजगारों, युवाओं को ध्यान में रखकर तमाम नई बातें जोड़ी हैं। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के दफ्तर से जारी हुए इस घोषणा पत्र के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी भी दिखाई दिए। इस दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुली बहस की चुनौती दी है।

घोषणा पत्र के दौरान क्या बोले राहुल गांधी

घोषणा पत्र जारी करने के दौरान रखी गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि यह घोषणा पत्र देश की लाखों करोड़ों बेरोजगार युवाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। इसके अलावा किसानों के लिए अलग से बजट घोषित करने की भी बात कही है।  इसमें घोषणा की गई है। घोषणा पत्र के जरिए कांग्रेस ने अपने वादों का पिटारा जनता के सामने खोला है। इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गरीबों को अच्छे अस्पताल में तत्काल इलाज मुहैया कराए जाने की भी वकालत की है।

घोषणा पत्र में यह खास बात है

घोषणा पत्र के जरिए कांग्रेस ने स्टार्टअप को भी मजबूती देने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि जिस किसी के भी पास नया आईडिया है। वह उस पर काम कर सकते हैं। पैसों की जिम्मेदारी सरकार की है। सरकार बिना ब्याज के ऋण उपलब्ध कराएंगी, ताकि वह अपने स्टाफ को देश दुनिया के सामने एक मुकाम स्थापित कर सके।

मोदी को खुली चुनौती

घोषणा पत्र जारी करने के दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुली बहस करने की चेतावनी दी है। वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि आखिर ऐसी क्या बात है? जिससे वह प्रेस कॉन्फ्रेंस पत्रकार वार्ता नहीं करते. आखिर पत्रकारों के सवाल से वह इतने क्यों घबराते हैं? राहुल गांधी ने कहा कि ऐसे मुद्दे हैं जिन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुलकर बोलने को तैयार नहीं है। लेकिन वह उन्हें चुनौती देते हैं , कि वह खुली बहस करें।

पंकज त्रिपाठी उर्फ कालीन भैया भी अब आएंगे राजनीति में, लेकिन किस पार्टी से लड़ेंगे चुनाव

इसलिए बायनाड से लड़ रहे हैं चुनाव

इस दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बीते दिन महाराष्ट्र के वर्धा रैली में राहुल गांधी पर बायनाड से चुनाव लड़ने को लेकर सवाल खड़े किए थे। उसका जवाब भी दिया है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा है कि हमेशा से ही केरल को सरकार ने मुख्य धारा से वंचित रखा है। ऐसे में हमने वहां से चुनाव लड़ने का फैसला इसलिए किया है। ताकि उन्हें भी हम सरकार की मुख्य धारा में जुड़ सकें।

आप हमें कमेंट करके हमारी खबर के बारे में अपनी राय रख सकते हैं। और यदि आपको हमारी ये ख़बर अच्छी लगी हैं, और ऐसीं खबरें आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारा फेसबुक पेज Action News India को लाइक कर सकते हैं। यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं। और ट्विटर पर हमें फॉलो कर सकते हैं। ताकि तभी हमारी सारी खबरें आप तक तत्काल पहुंचे, और आप उनका आनंद उठा सकें।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp