किसान यूनियन की मासिक बैठक में इन बातों पर हुई चर्चा

कोच। भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशीय अध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन ने कहा है कि क्रय केन्द्रों पर गेहूं की सरकारी खरीद बंद हो जाने के कारण किसान परेशान हो रहे हैं। केन्द्र प्रभारी माल की उठान नहीं होने, वारदाना नहीं होने आदि का वहाना बना कर किसानों की उपज नहीं खरीद रहे हैं। उन्होंने प्रशासन से कहा कि शीघ्र ही माल की उठान की व्यवस्था कराए एवं जिन केन्द्रों पर वारदाना नहीं है वहां वारदाना उपलब्ध करा कर शीघ्र ही खरीद प्रारंभ कराई जाए। यह बात उन्होंने शुक्रवार को गल्ला मंडी में आयोजित भाकियू की मासिक पंचायत में मुख्य अतिथि के तौर पर कही।

रामस्वरूप भदारी की अध्यक्षता एवं तहसील अध्यक्ष चतुरसिंह के संचालन में संपन्न हुई मासिक पंचायत में किसानों की समस्याओं पर चर्चा के बाद एसडीएम को ज्ञापन दिया गया और उनसे मांग की गई कि इन समस्याओं का अविलंब निदान कराया जाए। गंगथरा फीडर पर बिजली की लो वोल्टेज की समस्या से किसान सिंचाई नहीं कर पा रहा है, ग्रामीण इलाकों के जर्जर तारों एवं टूटे खंभों को भी बदलवाया जाए। जिले में अविलंब दलहन क्रय केन्द्र भी खोले जाएं ताकि किसानों को दलहन उत्पाद बेचने में सहूलियत हो सके। पंचायत में उन किसानों का भी मुद्दा उठा जिन्होंने अपना गेहूं पखवाड़ा भर पहले बेच दिया है लेकिन अभी तक उनके खातों में भुगतान नहीं पहुंचा है। किसानों ने तुरंत भुगतान खातों में भेजने की मांग की है। इस दौरान डॉ. केदारनाथ सिमिरिया, जिलाध्यक्ष ब्रजेश राजपूत, डॉ. द्विजेन्द्र, रामकुमार, डॉ. पीडी निरंजन, श्यामसुंदर, जसवंत, कौशल, प्रताप, शारदा मास्टर, डीके धनौरा, सत्यनारायण आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट : दुर्गेश कुशवाहा

Bitnami