शपथ ग्रहण से पहले मोदी सरकार के मंत्रीमंडल की लिस्ट हुई लीक, इन्हें मिल सकता है केंद्रीय मंत्री का पद

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

एक बार फिर से प्रचंड बहुमत से सत्ता में वापसी करने वाली एनडीए यानी मोदी सरकार एक बार फिर अपनी सरकार बनाने जा रही है। जिसको लेकर शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां की जा रही है। गुरुवार यानी 30 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे, लेकिन इस बार उनके मंत्रिमंडल में कौन शामिल होगा? इसको लेकर लोगों में और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं में उहापोह की स्थिति बनी हुई है। हर कोई जानना चाहता है, कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में किसे मंत्री बनने का तोहफ़ा मिलेगा। यानी कौन कौन ‘कैबिनेट मंत्री’ बनेगा?

अरुण जेटली नहीं रहेंगे मंत्री

मीडिया सूत्रों के मुताबिक पिछले कई दिनों से मोदी सरकार के कैबिनेट मंत्रीमंडल में में अहम भूमिका निभाने वाले अरुण जेटली अबकी बार शायद कैबिनेट से दूर रहेंगे। कहा जा रहा है कि बीते कई दिनों से अरुण जेटली बीमार चल रहे हैं, और उनका इलाज कराया जा रहा है। हालांकि वही कुछ सूत्रों का यह भी कहना है, कि उनका इलाज हो चुका है। वह फिर से स्वस्थ होते जा रहे हैं।

अमित शाह को नई जिम्मेदारी, राजनाथ सिंह के लिए कुछ और

इस दौरान सूत्रों के हवाले से यह भी खबर आ रही ह,ै कि मोदी सरकार की नई कैबिनेट में इस बार अमित शाह पार्टी की बजाय सरकार में शामिल होंगे। वह कैबिनेट में अहम पद पा सकते हैं। कुछ सूत्रों के हवाले से यह भी पता चल रहा है, कि अमित शाह अब की बार राजनाथ सिंह की जगह ले सकते हैं। गृहमंत्री की शपथ ले सकते हैं।
वहीं दूसरी तरफ राजनाथ सिंह को लेकर यह कयास लगाए जा रहे हैं। कि अबकी बार पार्टी उन्हें कोई नई जिम्मेदारी दे सकती है।

यूपी के नए सांसदों को अहम जगह

इस बार भी कहा जा रहा है कि अबकी बार मोदी सरकार में उत्तर प्रदेश के नए सांसदों को कैबिनेट में अहम जगह दी जा सकती है। हो सकता है इसमें 40 फ़ीसदी तक मोदी सरकार में शामिल होंगे। अबकी बार मोदी की नई कैबिनेट में करीब 40 फ़ीसदी नए सांसद शामिल होंगे। रिकॉर्ड मतों से जीतने वाले और क्षेत्र में अच्छी छवि रखने वालों को कैबिनेट में जगह दी जा सकती है।

रामबिलास पासवान इन्हें बनवाना चाहते हैं मंत्री

वहीं बताया जा रहा है कि भाजपा की सहयोगी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख रामविलास पासवान अपने पुत्र चिराग पासवान को कैबिनेट में जगह जलाए जाने को लेकर वकालत कर रहे हैं। हो सकता है इस बार रामविलास पासवान की जगह उनके बेटे चिराग पासवान को कैबिनेट में जगह मिले। आपको बता दें कि इसकी पहले रामविलास पासवान खुद मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं।

ये बने रहेंगे मंत्री

वहीं सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए मंत्रिमंडल में राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, और प्रकाश जावड़ेकर जैसे पुराने चेहरे नई सरकार में भी बने रहेंगे।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp