2 धड़ों में मिले युवक की हुई पहचान, मां-बाप के नहीं आ सके तो ग्रामीणों ने किया अंतिम संस्कार

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

झांसी। बीते दिन सोमवार को झांसी-कानपुर रेलवे ट्रैक पर संदिग्ध हालातों में मिली युवक की 2 धड़ों में लाश की शिनाख्त पुलिस ने कर ली है। जिसके बाद शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए दिया था, लेकिन मौके पर युवक के माता पिता ना होने के कारण ग्रामीणों ने ही युवक का अंतिम संस्कार किया है।

यह भी पढ़ें : एसएसपी झांसी को लिखी चिट्ठी से क्या कहना चाहते हैं बबीना विधायक राजीव सिंह पारीछा
ज्ञात हो कि 11 जून को सोमवार की सुबह झांसी के मोठ क्षेत्र में भरोसा ओवर ब्रिज के पास रेलवे ट्रेक पर एक युवक की 2 हिस्सों में कटी हुई लाश मिली थी। उसके पास ही एक बाइक और शराब की बोतल इत्यादि भी मिलने से मामला संदिग्ध लग रहा था। इस युवक की पुलिस ने थानाक्षेत्र के गांव सारन निवासी 20 वर्षीय सिद्धार्थ के रूप में की। जिसके बाद पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्डम के लिए भेज दिया था।

यह भी पढ़ें : महिला 20 हजार नहीं दे पाई तो BDO ने सरकारी आवास की लिस्ट से हटाया नाम
सिद्धार्थ के पिता नंदराम यादव फौज से रिटायर होने के बाद मुंबई की एक कंपनी में सर्विस कर रहे हैं। तो वहीं सिद्धार्थ की मां की तबियत खराब होने के कारण वह भी मुम्बई के एक अस्पताल में एडमिट हैं। दोनों को आने में 2 दिन लग जाते।
सिद्धार्थ की मौत की खबर पाकर दर्जनों ग्रामीण पोस्टमार्टम हाउस जा पहुंचे। जिसके बाद ग्रामीणों ने ही सिद्धार्थ का अंतिम संस्कार किया।

यह भी पढ़ें : झांसी पुलिस के दरोगा की रिश्वत लेते हुए Video वायरल

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp