शराब को कांच के ही गिलास में क्यों पीते हैं, 10 फीसदी लोग ही जानते हैं प्याले में पैर लगाने का अनोखा कारण

शराब को कांच के ही गिलास में क्यों पीते हैं, 10 फीसदी लोग ही जानते हैं प्याले में पैर लगाने का अनोखा कारण

इंडिया मैच जीते या हारे, किसी का जन्मदिन हो या फिर किसी के घर मातम का माहौल, कोई खुश हो या फिर परेशान हो, किसी की लॉटरी लगी हो या फिर कोई कर्ज में डूबा हो। हाल चाहे जो भी हो, लेकिन दुनिया में सिर्फ एक ही ऐसी चीज है जो दोनों कंडीशन में इस्तेमाल की जा सकती है। और वह है शराब! लोग न सिर्फ शौक के लिए शराब पीते हैं। बल्कि रौआब के लिए भी शराब पीते हैं। खुशी में भी शराब पीते हैं, और दुख में भी शराब पीते हैं।

गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप हो जाए या फिर कोई लड़की प्रपोज एक्सेप्ट कर ले। पेग तो बनते हैं गुरु, लेकिन कभी यह सोचा कि यह शराब के पेग आखिर कांच के गिलास में ही क्यों बनते हैं?

यह भी पढ़ें : चिप्स के पैकेट में क्यों भरी जाती है हवा ? सही जवाब सुन होगा आश्चर्य

शराब को कांच के गिलास में ही क्यों पीते हैं ?

आखिर क्या दोस्ती है? शराब और कांच की प्यालो की। जो इन्हीं में शोभा देती है। तो चलिए आइए जानते हैं कि आखिर क्या कारण है कि लोग शराब को कांच के गिलास में ही क्यों पीते हैं? शराब जिसे हम देसी भाषा में दारु पी कहते हैं। इसे कांच के गिलास में ही क्यों पीते हैं? इसके दो कारण है। नंबर 1, “मनोवैज्ञानिक” और नंबर दूसरा “थर्मोडायनेमिक्स”.

अब आप सोच रहे होंगे कि यह भैया थर्मोडायनेमिक्स कौन सी नई बला है। यह तो हम जानते ही नहीं, तो भाईसाहब जब “थर्मोडायनेमिक्स’ जानेंगे तभी तो पता चलेगा कि लोग शराब को कांच के प्यालो या गिलास में क्यों पीते हैं?
इसके बजाय वह स्टील के गिलास या डिस्पोजल का भी प्रयोग कर सकते हैं। लेकिन ऐसा वह केवल विषम परिस्थितियों में ही करते हैं। तो चलिए जान लेते हैं। शराब को कांच के गिलास में पीने का मनोवैज्ञानिक कारण क्या है?

यह भी पढ़ें : सभी गाड़ियों के टायर काले रंग के क्यों होते है ? रोचक तथ्य

1. मनोविज्ञान

मनोविज्ञान– कांच के गिलास दिखने में स्टील या अन्य गिलास से ज्यादा अच्छे होते है। सोचिये अगर आप खुशी के वक्त शराब का मजा ले रहे है और अचानक आपका ध्यान जाता है स्टील के गिलास पर या प्लास्टिक के गिलास पर। क्या आपको वह आकर्षित करेगा? बेशक नही करेगा। और हो सकता है आपकी शराब पार्टी का मजा भी किरकिरा हो जाये।

और सोचिये अगर आपके सामने आकर्षक दिखने वाले कांच के गिलास में शराब रखी है। इससे आपको जरूर मन ही मन खुशी होगी। आपकी इच्छा बढ़ेगी।

कांच के गिलास में आप शराब की मात्रा भी देख सकते है। अगर आप अंदाजन 30/45/60 मिली शराब लेना चाहें तो इसमें आपको कोई दिक्कत नही आएगी। यही आपको स्टील के गिलास में शायद ही आसान लगे।

यह भी पढ़ें : भारत के राज्यों के नाम 2 मिनट में सीखें, और जिंदगी भर याद रहेंगे, 100% ट्रिक

2. थर्मोडायनामिक्स

थर्मोडायनामिक्स : हर कोई एक एक पेग ज्यादा समय तक एन्जॉय करना पसंद करते है। मतलब ज्यादा देर तक पेग ठंडा रहना चाहिए। इसमे कांच के गिलास अपनी अहम भूमिका निभा सकता है। कांच की अन्य वस्तु जैसे प्लास्टिक, स्टील या अन्य धातु से काफी कम है। जिससे कांच के गिलास में रखा हुआ पदार्थ काफी देर तक अपना तापमान मेन्टेन रख सकता है। मतलब ठंडी शराब जल्दी गरम नही होगी और ज्यादा देर तक मजा देगी।
यही कारण है कि बियर कांच के बोतल में ही मिलती है।

यह भी पढ़ें : भारत के राष्ट्रपति के बारे 14 बातें, जो जानना बेहद जरूरी है

आप हमें कमेंट करके हमारी खबर के बारे में अपनी राय रख सकते हैं। और यदि आपको हमारी ये ख़बर अच्छी लगी हैं, और ऐसीं खबरें आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारा फेसबुक पेज Action News India को लाइक कर सकते हैं। यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं। और ट्विटर पर हमें फॉलो कर सकते हैं। ताकि तभी हमारी सारी खबरें आप तक तत्काल पहुंचे, और आप उनका आनंद उठा सकें।

Action News India

एक्सन न्यूज़ डॉट इन एक जाना माना समाचार पोर्टल है।और यह अपनी अनोखी और इनफॉरमेशनल न्यूज़ के लिए जाना जाता है। इसे आप गूगल समाचार, यूसी न्यूज़, न्यूज़ डॉग, न्यूज़ हंट (डेली हंट) आदि पॉपुलर न्यूज़ प्लेटफॉर्म पर भी पढ़ सकते हैं।

Bitnami