पीरियड क्या होता है? 0 से 28 दिन तक की पीरियड्स की पूरी कहानी

पीरियड्स क्या होता है
Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

पीरियड्स क्या होता है? यह सवाल बड़ा ही रोचक है। साथ ही उतना ही रहस्य मय भी। आइये जानते हैं पीरियड्स या पीरियड होता क्या है? इसे हम रजोधर्म, मासिक धर्म, माहवारी आदि नामों से भी जानते हैं। आप में से बहुत सारे लोग इस बारे में जानता चाहते होंगेैं कि आखिर यह क्या होता है? और क्यों होता है? आज हम पीरियड से जुड़ी सारी बातों पर साधारण भाषा में बात करेंगे। जिसे आप भी आसानी से समझ पाए। कि आखिर पीरियड क्या होता है? और लड़कियों या महिलाओं में यह क्यों होता है?

यह भी पढ़ें : हस्तमैथुन के फायदे क्या हैं ? जानें डॉक्टर्स द्वारा बताए 05 फायदे

पीरियड क्या होता है?

पीरियड महिलाओं में होने वाली एक साधारण प्रक्रिया है । जो उसके फिजिकल सिस्टम से जुड़ी होती है। यह कोई समस्या नहीं बल्कि एक अंग स्वरूप ऐसी प्रक्रिया है, जैसे हमारा खाना खाना और इसे पचाना। लड़की या महिला के गुप्तांग से एक निश्चित समय के बाद हर महीने ब्लड निकलना ही पीरियड, माहवारी या मासिक धर्म होता है। इस पूरी प्रक्रिया को हम मासिक चक्र कहते हैं। पीरियड्स क्या होता है ?

यह भी पढ़ें : शीघ्रपतन क्या है ? इससे जुड़ी 10 बातें जो हमेशा लोग गलत बताते हैं

पीरियड 10 से 15 साल की उम्र की लड़कियोंं से शुरू होकर 45 से 50 साल की उम्र तक चलता है, और बाद में यह अपने आप खत्म हो जाता है। अब आप समझ गए होंगे कि पीरियड क्या होता है? अब यह जान लेते हैं कि आखिर क्यों होते हैं?

क्यों होते हैं पीरियड

हर महीने लड़कियों और महिलाओं को पीरियड होने का मुख्य कारण बच्चा पैदा करना होता है। यदि हम मासिक धर्म या पीरियड की प्रक्रिया पहले दिन से देखें। तो लड़कियों या महिलाओं की सबसे पहले दिन अंडाशय के रास्ते कुछ अंडा गर्भाशय में जाते हैं। और गर्भाशय के किनारे पर एक सतह बनाते हैं। ताकि इसमें पलने वाले बच्चे को पोषण मिल सके। यह प्रक्रिया पूरे 14 दिन तक चलती है। 14वें दिन गर्भाशय से एक सिग्नल माइंड में जाता है। और यह बताता है कि गर्भाशय तक वीर्य पहुंचा या नहीं।

यह भी पढ़ें : सेक्स वीडियो ब्लू फिल्म देखने के नुकसान भी होते है ? जानकर हैरान रह जाएंगे

जब वहां से सिग्नल मिलता है। कि वीर्य नहीं पहुंचा। तो गर्भाशय की सतह झड़ना शुरू हो जाती है। जो ब्लड या खून के रूप में बाहर निकलती है। यह प्रक्रिया आखिरी दिन होती है। यानी तब तक 28 दिन पूरे हो जाते हैं। और 3 से 5 दिनों तक चलती है। इस दौरान महिलाओं को दर्द भी होता है।

आप हमें कमेंट करके हमारी खबर के बारे में अपनी राय रख सकते हैं। और यदि आपको हमारी ये ख़बर अच्छी लगी हैं, और ऐसीं खबरें आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारा फेसबुक पेज Action News India को लाइक कर सकते हैं। यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं। और ट्विटर पर हमें फॉलो कर सकते हैं। ताकि तभी हमारी सारी खबरें आप तक तत्काल पहुंचे, और आप उनका आनंद उठा सकें।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp