चेकिंग में पुलिस ने पकड़ी 16 करोड़, और गायब कर दिए साढ़े 6 करोड़

लोकसभा चुनाव की तैयारियां जोरों पर है। मतदान शुरू होने वाले हैं, लेकिन इस बीच चुनाव में मतदाताओं को नोट के बदले वोट का फार्मूला लागू न हो, इसके लिए पुलिस पूरे देश के चौक चौराहों पर चेकिंग करती नजर आ रही है, और तलाशी ले रही है। कि कहीं तय सीमा से किसी के पास ज्यादा नकदी तो नहीं है। और यदि है तो उसे कब्जे में लेकर कार्यवाही अमल में लाई जा रही है।

लेकिन यदि इसी बीच कब्जे में ली गई रकम को पुलिस खुद ही दबा ले। तब क्या होगा? ऐसा ही मामला सामने आया है. पुलिस ने 6 करोड पचास लाख रुपए गायब कर दिए. यह पैसे पुलिस ने चेकिंग के दौरान बरामद की गई रकम के आधे से भी कम बताए जा रहे हैं. यानी की पुलिस ने करीब 16 करोड़ों रुपए बरामद किए थे. जिसमें से 6 करोड़ 50 लाख रुपए गायब कर दिए। इसके बाद जिसके यह पैसे थे। उसने बखेड़ा खड़ा कर दिया है, और पुलिस पर पैसे गायब करने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें : Income Tax की Raid में MP के CM कमलनाथ के लोगों के घर से करोड़ों निकले

कहाँ की है घटना

घटना पंजाब की है। बीती 30 मार्च को पंजाब पुलिस लुधियाने के एक इलाके में चेकिंग कर रही थी। इस इलाके को दोराहा के नाम से जाना जाता है। इस दौरान यहां से निकलने वाली तमाम गाड़ियों की चेकिंग की जा रही थी। उनसे कागजात मांगे जा रहे थे, और उनको चेक किया जा रहा था। जैसे अक्सर वाहन चेकिंग के दौरान देखा जाता है।

इसी दौरान लुधियाने की तरफ से तीन गाड़ियां आई। पुलिस ने इन गाड़ियों को भी रोका और इनकी चेकिंग की।
इस दौरान बताया जाता है कि इन गाड़ियों से भारी पैसा बरामद हुआ। पैसा को गाड़ियों से निकाला गया और फिर इस पैसे को गिनने के लिए बैंक से कर्मचारी भी बुलाए गए। पुलिस ने भी पैसे कमाए। जब गिनती पूरी हो गई तो पता चला कि पैसे 16 करोड़ों रुपए हैं।

मोदी की रैली के बाद बीजेपी ऑफिस में लटकती मिली कार्यकर्ता की लाश

किसका था इतना सारा पैसा

अब सवाल यह है कि आखिर इतना सारा पैसा था किसका? और वह कहां जा रहा था? इसका क्या होने वाला था? तो पुलिस को जांच में यह बात पता चली कि यह पैसा फादर एंथोनी मेदासरे नाम के एक व्यक्ति का है। कुछ दिनों बाद इस व्यक्ति को पता चला कि इसकी पकड़ी गई 16 करोड़ की रकम अब केवल साढे नौ करोड़ बचे हैं. ऐसे में फादर की सनकी, और फादर पुलिस के आला अधिकारियों के पास पहुंचे. और पुलिस पर साढे 6 करोड़ों रुपए गायब करने का आरोप लगाया. तब इस बात का खुलासा हुआ। ऐसे में पुलिस ने इसकी जांच के लिए एसआईटी का गठन भी कर दिया। ताकि सच सामने आ सके लेकिन इससे पंजाब पुलिस की भारी किरकिरी हुई है।

वाहन चेकिंग के दौरान मौजूद एसएचओ दोराहा करनैल सिंह और एएसआई मोहिंदर पाल सिंह अपनी टीम के साथ इन गाड़ियों की चेकिंग में शामिल थे, और इन्हीं लोगों ने पैसे बरामद किए थे। ऐसे में इनके ऊपर भी सवालिया निशान लगने शुरू हो गए।

कौन हैं फादर एंथोनी मेदासरे जिसके पास इतना पैसा निकला

फादर एंथोनी मेदासरे जालंधर की “फ्रांसियन मिशनरीज ऑफ जीसस” के प्रमुख हैं। इसके अलावा यह एक बड़े कारोबारी भी है उनके कारोबार का लाखों का टर्नओवर है। पुलिस के मुताबिक फादर एंथोनी मेदासरे “सहोदय” नामक एक निजी फर्म के हिस्सेदार भी है. यह फर्म करीब आधा सैकड़ा क्रिश्चियन स्कूल को कॉपी किताबें व स्टेशनरी का सामान देने का काम करता है. इस फर्म का सालाना टर्नओवर करीब 50 करोड़ है।

पासीघाट में मोदी ने कांग्रेस के 15 साल पुराने घोषणा पत्र को किया उजागर, ये बात भी थी उसमें

आप हमें कमेंट करके हमारी खबर के बारे में अपनी राय रख सकते हैं। और यदि आपको हमारी ये ख़बर अच्छी लगी हैं, और ऐसीं खबरें आप पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारा फेसबुक पेज Action News India को लाइक कर सकते हैं। यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं। और ट्विटर पर हमें फॉलो कर सकते हैं। ताकि तभी हमारी सारी खबरें आप तक तत्काल पहुंचे, और आप उनका आनंद उठा सकें।

Sunidhi Mishra

Sunidhi Mishra is Popular indian Web Journalist & Writer. She write news in Action News India. She also Exclusive Editor & Chief Exclusive officer @ Action News India (actionnews.in.).

Bitnami