कंट्री कोड क्या है ? और हमारे मोबाइल नंबर के आगे +91 क्यों होता है

क्या क्यों कब कहाँ कैसे किसने
Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

कंट्री कोड क्या है ? और हमारे मोबाइल नंबर के आगे +91 क्यों होता है?

आप में से कई लोगों के दिमाग में यह सवाल जरूर आता होगा कि हमारे मोबाइल नंबर के आगे +91 क्यों होता है? आखिर इसके पीछे का कारण क्या है? और इसे क्या कहते है? किसी भी देश का कंट्री कोड कैसे पता करें? भारत ही नहीं सभी देशों का अलग अलग कंट्री कोड होता है। इसी प्रकार हमारे भारत का भी यह कंट्री कोड है। लेकिन यह कंट्री कोड कैसे आता है?और इसका क्या काम होता है? आज हम इसके बारे में ही बात करेंगे।

कहाँ से आया +91 कंट्री कोड ?

आखिर कहां से आया यह कंट्री कोड जो हमने इसकी खोज करना शुरू की तो पता चला कि यह कंट्री कोड इंटरनेशनल टेलीकम्युनिकेशन यूनियन अंतरराष्ट्रीय दुर्गा संघ सभी देशों को प्रदान करता है जिसके बाद एक ही प्रकार के अलग-अलग तमाम नंबरों के आग लगे कंट्री कोड से उस कंट्री की पहचान की जा सकती है और तमाम दूरभाष कंपनियां इसके जरिए देश के अंदर लोकल कंट्री कॉल कर आती हैं इस कंट्री कोड के बदल जाने के साथ ही हमारी कॉल भी दूसरे देश डाइवर्ट हो जाती है

अच्छा आदमी कैसे बनें ? अच्छे व्यक्ति के 10 नियम

+91 ही क्यों है कंट्री कोड क्या है लॉजिक ?

दरअसल इसके पीछे भी एक लॉजिक है। कि हमारे देश के नंबर के आगे प्लस 91 क्यों होता है? इसलिए क्योंकि हमारा भारत 9 जोन में आता है। और यही कारण है कि हमारे देश का कंट्री कोड भी 91 है। भारत के पड़ोसी देश जैसे कि पाकिस्तान, श्री लंका बांग्लादेश के लिए भी अलग अलग कोड निर्धारित किए गए हैं। जिसमें + 92, + 95, + 96 जैसे कोड है। जो अलग-अलग देशों को दिए गए हैं। पर इनमें 9 कॉमन है क्योंकि यह सारे देश 9 ज़ोन के अंतर्गत आते हैं।

कैसे पता करें किसी भी देश का कंट्री कोड क्या है ?

किसी भी देश का कंट्री कोड क्या है ? यह पता करने के लिए इंटरनेट पर तमाम वेबसाइट मौजूद हैं। जहां हम फाइंड कंट्री कोड कीवर्ड से तमाम ऐसी वेबसाइट खोज सकते हैं। और वहां जाकर किसी भी देश का कंट्री कोड ढूंढ सकते हैं। कंट्री कोड की सही जानकारी देने वाली एक वेबसाइट का लिंक हम नीचे शामिल कर रहे हैं। यहां पर क्लिक करके आप किसी भी देश का कंट्री कोड जान सकते हैं।

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp