अकाल मृत्यु से कैसे बचें ? 21 अचूक उपाय जो आपकी जान बचा सकते हैं

अकाल मृत्यु
Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp

सोचिए यदि आपको पता नहीं कि ज़हर खाने से कोई मर जाता है, और आप उसे गलती से खा लें। तो क्या वह गलती आप कभी सुधार पाएंगे? आपने कई लोगों के मुंह से सुना होगा कि अभी उसकी उम्र ही क्या थी? कुछ न होता तो वह 20-25 साल अभी और जीता। समय से पहले मर जाने वाले व्यक्ति की मौत को हम अक्सर अकाल मृत्यु का नाम दे देते हैं। लेकिन वास्तव में अकाल मृत्यु होती क्या है? और इससे कैसे बचे?

इन सब को लेकर हम 21 ऐसे पॉइंट लेकर आए हैं। जिन्हें पढ़कर आप भी अकाल मृत्यु से बच सकते हैं। वैसे अकाल मृत्यु कोई बड़ा हउवा नहीं है। लेकिन यदि आप सजग और सावधान रहते हैं तो अकाल मृत्यु भी टाली जा सकती है।

अकाल मृत्यु क्या है?

अकाल मृत्यु यानी प्राकृतिक मौत से पहले ही मर जाना। अकाल मृत्यु मतलब सावधानी हटी दुर्घटना घटी। अकाल मृत्यु मतलब आपकी लापरवाही और जान से हाथ धो बैठना। अकाल मृत्यु मतलब आपकी 1 गलती जिसे आप फिर कभी नहीं सुधार पाएंगे। लेकिन ऐसी ही मौत से बचने के लिए हमने एकत्रित किए हैं 21 पॉइंट। जिन्हें आप पढ़ सकते हैं। और उन्हें याद भी कर सकते हैं। ताकि आप भी उन गलतियों को न दोहराएं।

अकाल मृत्यु से कैसे बचें ? 21 अचूक उपाय

  • नंगे और गीले हाथों/ पैरों के साथ या बिना जानकारी के कभी भी बिजली के चालू उपकरण न छुएँ।
  • घर में कुशल इलेक्ट्रिशियन से ही वायरिंग करवाइये।
  • कुकिंग गैस को प्रयोग के बाद सदा रेगुलेटर से बंद करिये।
  • बाथरूम में बहुत चिकने फ़र्श न बनवाइए, चिकने फ़र्श पर फिसलने से बचिये।
  • ठंड से बचने के लिए कभी भी कोयले की जलती हुई अंगीठी कमरे में ले कर न सोईए।
  • बिना हेलमेट बाइक न चलाइये, बिना सीट बेल्ट कार न चलाइये. वाहन की रफ़्तार नियंत्रित रखिये।
  • नशे की हालत में कभी भी वाहन न चलाइये।
  • सड़क पर समय बचाने के चक्कर में उलटी दिशा में कभी भी गाड़ी न चलाइये।
  • गाड़ी चलाते समय मोबाइल पर बात न करिये।
  • कोहरे में गाड़ी चलाते समय लाइट आन रखिये। और रफ़्तार बहुत धीमी रखिये।
  • बिना पर्याप्त जानकारी के किसी भी छोटी या बड़ी मशीन को चालू न करिये।
  • कुशल तैराक के बिना अकेले पानी में उतर कर तैरना सीखने की कोशिश कभी न करिये।
  • कुशल तैराक के सानिध्य में तैरना अवश्य सीखिये।
  • नए स्थान पर घूमने जाते समय सुरक्षा को लेकर किसी स्थानीय व्यक्ति की बताई गई बात को अनसुना न करें।
  • किसी पहाड़ी स्थान पर नदी के नज़दीक जाकर फ़ोटो खिंचाते समय ये ज़रूर पता कर लें। कि कोई बाँध नज़दीक तो नहीं। जिसका पानी कभी भी छोड़ दिए जाने से अचानक से नदी में बाढ़ आने की सम्भावना रहती है।
  • ये भी देख लें कि जहाँ आप फ़ोटो खींच रहे हैं। वो ब्लास्टिंग एरिया तो नहीं है। या स्लाइड ज़ोन तो नहीं है। जहाँ ऊपर से पत्थर गिरने की सम्भावना हो।
  • भागते हुए ट्रेन या बस न पकड़िये बल्कि ट्रेन/बस छूटने से पहले ही उसमें चढ़ कर अपनी सीट पर बैठ जाइये।
  • ट्रेन के दरवाज़े पर डंडे से लटक कर यात्रा न करें और न ही ट्रेन की छत पर चढ़ने का प्रयास करें।
  • दिवाली के पटाखे सावधानी से छुड़ाइये. उस समय पानी की भरी बालटी और बरनाल की ट्यूब भी पास ही रखिये।
  • दंगे और करफ़्यू के दौरान घर से बाहर न निकलिए
  • ख़तरनाक स्थानों पर खड़े होकर सेल्फ़ी न लें।
Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp