Check the settingsBJP नेता बोले,RSS के खिलाफ न लिखतीं तो जिंदा होती गौरी लंकेश — Action News India
Breaking News
BJP नेता बोले,RSS के खिलाफ न लिखतीं तो जिंदा होती गौरी लंकेश
गौरी लंकेश

BJP नेता बोले,RSS के खिलाफ न लिखतीं तो जिंदा होती गौरी लंकेश

नई दिल्ली (एजेंसी)। वरिष्ठ पत्रकार और समाजसेवी गौरी लंकेश की हत्या का खुलासा अभी हो भी नहीं पाया है, कि इस पर राजनीति शुरु हो गई है । एक तरफ जहां कांग्रेस भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर बनी हुई है ,तो वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी कर्नाटक सरकार पर लगातार हमला बोल रही है । इससे भी बड़ी बात यह है कि इस मामले में भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने विवादित बयान देकर बखेड़ा खड़ा कर दिया है। कर्नाटक बीजेपी के नेता ने एक ऐसा बयान दिया है जिससे यह मामला एक बार फिर सबके सामने आ गया है । बीजेपी नेता के इस बयान से सियासी सरगर्मियों का पारा एक बार फिर चढ़ गया है।

Read this also :- गौरी लंकेश का आखिरी लेख, RSS और BJP की पोल खोलने के बाद हुई चर्चित महिला पत्रकार की हत्या

बीजेपी नेता और पूर्व विधायक जीवराम ने गौरी लंकेश को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है । कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे पूर्व विधायक और बीजेपी नेता जीवराम ने कहा कि गौरी लंकेश उनकी बहन जैसी थी लेकिन वह जिस तरह भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का विरोध कर रही थी, वह बहुत ही गलत था। बीजेपी नेता जीवराम यहीं नहीं रुके, इसके आगे भी बोले । आगे जीवराम ने कहा कि यदि गौरी लंकेश आरएसएस के खिलाफ न लिखती तो शायद आज जिंदा होती । जीवराम के इस बयान के बाद सियासी पारा एक बार फिर चढ़ गया है। विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी को एक बार फिर घेरने पर जुट गए हैं।

Read this also :- महिला पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना

दरअसल जीवराम एक कार्यकर्ता सम्मेलन में शरीक हुए थे, और इस दौरान वह कार्यकर्ताओं को वक्तव्य सुना रहे थे । इसी दौरान जीवराम ने यह कह दिया। जीवराम के इस बयान से कई सवाल खड़े होते हैं । तो वहीं जीवराम का यह बयान यह भी जाहिर करता है कि गौरी लंकेश की हत्या के पीछे प्रत्यक्ष न सही लेकर अप्रत्यक्ष रूप से आरएसएस का हाथ हो सकता है । ऐसे में भारतीय जनता पार्टी, समेत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आरएएस को समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

गौरतलब है कि एक तरफ जहां पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद पूरे देश में विरोध प्रदर्शन जारी है तो वहीं दूसरी ओर विदेशी मीडिया भी पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर सवाल खड़े किए हुए हैं । देसी नहीं विदेशी मीडिया भी इस घटना के बाद से आक्रोशित है। ऐसे में बीजेपी नेता का बयान उनकी पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है।