Check the settingsझांसी में PM आवास योजना में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार, अफसरों को दिखाई ढुरऊ बखरी — Action News India
Breaking News

झांसी में PM आवास योजना में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार, अफसरों को दिखाई ढुरऊ बखरी

झाँसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरु की गई प्रधानमंत्री जन आवास योजना में भ्रष्टाचार होने की बू आने लगी है। उत्तर प्रदेश के झांसी में जगह-जगह इसमें जमकर धांधली हुई है । कहीं अपात्रों के नाम इस योजना में शामिल हो गए हैं, तो कहीं जानवरों की रहने वाले घर दिखा कर बड़े लोगों ने प्रधानमंत्री आवास में अपना नाम लिखवा दिया है । वहीं दूसरी तरफ ग्राम प्रधान से लेकर ब्लॉक खंड अधिकारी और बड़े-बड़े अधिकारियों ने इसमें सांठगांठ कर जमकर धांधली की है, और आज भी पात्र प्रधानमंत्री आवास योजना की वाट लगाए इंतजार कर रहे हैं।

भ्रष्टाचार का पहला मामला

पहला मामला झांसी के बामोर विकास खंड का है। यहां के गांव इस्किल में सर्वे टीम और ग्राम सचिव द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना में जमकर धांधली होने की शिकायतें मिल रही हैं । बताया जा रहा है कि सर्वे टीम ने अपात्रों से पैसे लेकर उनका नाम इस सूची में जोड़ दिया । यही नहीं उनका नाम फाइनल हो जाने के बाद उनके खातों में इसकी पहली किस्त भी आ गई है। जबकि उनके घर पक्के बने हुए हैं ,और उनके पास काफी जमीन जायदाद वाहन आदि है । ऐसे में प्रधानमंत्री आवास योजना को यहा बट्टा लगता नजर आया । बताया जा रहा है कि यहां बिना प्रधान के ही सर्वे टीम ने गांव का सर्वे किया था, और अपने हिसाब से रिपोर्ट तैयार की थी । बताया तो यह भी जा रहा है कि इस सर्वे टीम ने अपात्रों से कुछ पैसे भी लिए हैं।

यह भी पढ़ें : झाँसी पुलिस का 3rd डिग्री देख रो पड़ेंगे आप,युवक के प्राइवेट पार्ट का किया ऐसा हाल कि

भ्रष्टाचार का दूसरा मामला

वही दूसरा मामला झांसी के ही विकासखंड चिरगांव का है । यहां के गांव चेलरा में भी कुछ ऐसा ही मिला जुला मामला सामने आया है । प्रधानमंत्री आवास योजना को तार तार करते हुए यहां के जिम्मेदार अफसरों ने अपात्रों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दे दिया है। जबकि पात्र अब भी हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। पात्र ग्रामीणों का आरोप है कि यहां भी जिम्मेदारों ने अपात्रों से पैसे लेकर उनका नाम प्रधानमंत्री आवास योजना में लिखवाया था। जिसकी पहली किस्त जारी हो चुकी है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के झांसी में इस खबर के पहले भी रोजगार सेवक पर प्रधानमंत्री आवास योजना में सम्मिलित होने को लेकर एक ग्रामीण से रिश्वत मांगी गई थी। जिसके बाद एक्शन न्यूज़ द्वारा इसकी जगह जगह पड़ताल कराई गई तो यहां भी प्रधानमंत्री आवास योजना में भ्रष्टाचार की बू आती नजर आई।

रिपोर्ट : आशुतोष नायक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*