Check the settingsप्रशासन हादसे के बाद चेतता ही नही — Action News India
Breaking News
प्रशासन हादसे के बाद चेतता ही नही

प्रशासन हादसे के बाद चेतता ही नही

मऊरानीपुर (झाँसी) दो दिन पूर्व बडागावं कांड के समाचार की स्याही सूखी ही नही थी कि पुुलिस के लापरवाही रवैये को लेकर गौवंश सेवक सहित वकील आदि ने पुलिस कार्यवाही को सिरे से खारिज कर केस सही धाराओं में दर्ज करने की मांग करते हुये विरोध प्रर्दशन किया।

आज जब गौवंश सेेवक प्रर्दशन कर रहे थे तभी वकील गण भी मौके पर आ गये व समर्थन देने की बात कही।

मालूम हो कि गत 23 जून की सुबह नुन्हाई मंण्डी में सुबह सब्जी खरीदते सुधांशु पुत्र एड. सुधीर अवस्थी निवासी पुरानी बैलाई से बडा बाजार पुलिस चैकी के पास सुबह की मण्डी आया था।

सब्जी फरोश ने किया था हमला
सुशील के अनुसार सब्जी फरोश गाय को लातों व लाठियों से बुरी तरह मार रहा था जिसका विरोध करने पर सब्जीफरोश ने उस पर घातक बका से हमला कर दिया जो उसकी गर्दन को छीलता हुआ निकल गया था, एवं उसकी जंजीर लूट ली थी।
48 घण्टे का अल्टीमेटम
आज उपचार कराकर आये घायल सुधांशु अवस्थी के साथ गौंवंश सेवक मनीष खेबरिया, मनीष सेठिया, आशीष खेबरिया, अंशुल सरावगी, चूणा पाणी चतुर्वेदी, राजू नगायच, अखिलेश सहित दर्जनों गौवंश आज कचहरी पहुंचे वं पुलिस की कार्यशैली पर टिप्पणी करते हुये विरोध प्रकट किया एवं मौके पर आई उप जिलाधिकारी वान्या सिंह को दिये ज्ञापन में बताया कि।

गत 23 जून को जो घटना हुई उसे सही न लिख पुलिस ने अपने हिसाब से लिखी जो पूरी तरह गलत है

दिये ज्ञापन में 48 घण्टे के अंदर कार्यवाही न होने पर उग्र प्रर्दशन करने कर बात मौक पर कहीं गई, वहीं सूचना पर आये पुलिस बल पूरे समय नजर रखे रहा।

रिपोर्ट- रवि अग्रवाल रठा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*