Check the settingsमजबूरी में नहीं इसलिए झांसी की सड़कों पर भीख मांग रहे ये बच्चे
Breaking News
मजबूरी में नहीं इसलिए झांसी की सड़कों पर भीख मांग रहे ये बच्चे
Bhikhari jhansi

मजबूरी में नहीं इसलिए झांसी की सड़कों पर भीख मांग रहे ये बच्चे

झांसी। यूँ तो सरकार ने आठवीं तक के बच्चों की शिक्षा एक दम मुफ्त कर रखी है ताकि गरीब से गरीब घर का बच्चा प्राथमिक शिक्षा का लाभ ले सके । लेकिन ये स्कूल के बजाय हर रोज सड़क पर आने जाने वाले लोगों से भीख मांगता है। जिन हाथों में पेंसिल होनी चाहिए वह लोगों के सामने भीख मांगने के लिए फैलाये जा रहे हैं । हैरतअंगेज बात यह है कि इन बच्चों के लिए भीख मांगने की बजह मजबूरी नहीं बल्कि कुछ और ही है। आइये जानते हैं कि आखिर क्या कारण है जिससे यह सड़कों पर भीख मांग रहे हैं।

Bhikhari jhansi

यह तश्वीरें यूपी के झांसी के कस्बा गुरसरांय स्थित कॉलेज चौराहा से लीं गईं हैं, और यह बच्चे हैं गुरसरांय कस्बे से सटे हुए गांव मडोरी के। आज की तरह यह बच्चा अपने भाई के साथ हर रोज यहीं आसपास भीख मांगते हैं। और शाम को घर पहुचकर अपने माँ बाप को भीख की कमाई का सारा हिसाब देते हैं ।

..तो क्या इस बजह से मांगते हैं ?

Chieldhood

दरअसल भीख मांगना इन बच्चों की कोई मजबूरी नहीं बल्कि यह काम इन लिए अब पेशा बन गया है। तय बक्त पर हर रोज अड्डे पर पहुंचना ,और दिन भर भीख मांगना और शाम को घर जाकर हिसाब देना । यही इनकी दिनचर्या बन गयी है। किसी ऑफिशियल ड्यूटी की तरह यह भी अपनी ड्यूटी करते हैं।

ये भी मांग रहे भीख

चौकाने बाली बात तो यह है कि यह बच्चे ही नहीं इस उम्र के अधिकतर बच्चे यहां मांगते देखे जा सकते हैं । उन सभी बच्चों की कहानी भी हूबहू इन्हीं की तरह है। यह भी स्कूल जाने की बजाय भीख मागा करते हैं और घर जाकर मां बाप को पैसा देते हैं। अब सवाल यह है कि आखिर इनके मां बाप इनसे ऐसा क्यों करवाते हैं ? तो आइए जानते हैं इस बजह को भी।

इसलिए मां बाप ने बना दिया भिखारी

Bhikhare

दरअसल इन बच्चों के मां बाप का सोचना है कि पढ़ाई करने से कहीं बेहतर है कि वह कुछ कमाए । पैसों के लालच में इन बच्चों के माँ बाप इनसे ऐसा करवाते हैं । दुनियां में शायद ही कोई ऐसा मां बाप होगा जोबापने बच्चों को इस काम में धकेलेगा । लेकिन यहां ये सब हो रहा है। इस तरफ न तो अब तक प्रशासन की नजर पहुँची, और न ही समाज के हिमायतियों की।

मां बाप भी पेशेवर भिखारी

इससे भी बड़ी बात यह है कि इन बच्चों के मान बाप भी इसी काम में भरोसा रखते हैं । और बच्चों की तरह खुद भी सुबह से गांव में मांगने निकल जाते हैं । और पूरे दिन गांव गांव जाकर भीख मांगा करते हैं । यूँ तो देश में भीख मांगना अपराध है लेकिन इन मां बाप ने तो अपराधी शब्द की ही व्हाट लगा दी । खुद तो खुद अपने बच्चों को भी इसी काम में लगा दिया।
एडिटेड : आशुतोष नायक/फोटो : अजय वर्मा