Check the settingsकिसानों का उत्पीड़न कर रही है सरकार... दीपनारायण जांच के नाम पर योजनायें बन्द कर रही सरकार — Action News India
Breaking News
किसानों का उत्पीड़न कर  रही है सरकार… दीपनारायण  जांच के नाम पर योजनायें बन्द कर रही सरकार

किसानों का उत्पीड़न कर रही है सरकार… दीपनारायण जांच के नाम पर योजनायें बन्द कर रही सरकार

एरच (झांसी)| केन्द्र और प्रदेश की योगी सरकार किसानों मन की नही काम की बातों का समय का उत्पीड़न कर रही है यह बात आज एरच नगर में आयोजित बूथ कमेठी कीमें गरौठा के पूर्व विधायक श्री दीपनारायण सिंह यादव ने कही उन्होने कहा सरकार द्वारा किसानों के अलावा हर बर्ग का उत्पीड़न किया जा रहा है उन्होने आरोप लगाया की सरकार बनाने के बाद लैपटाॅप और कन्या विद्याधन और 55 लाख महिलाओं की पेंशन को बन्द कर दिया गया है जिससे गरीबों के साथ अन्याय हुआ है उन्होने आरोप लगाया की ज्यादातर उद्घाटन पूर्व की अखिलेश सरकार की योजनाओं के किये जा रहे हैं जबकि बर्तमान सरकार बाहबाही लूटने का काम कर रही हे उन्होने कहा की आज बालू के दाम आसमान छू रहे हैं जबकि साधू के बेश में मुख्यमंत्री के द्वारा अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं को खुलेआम लूटने की छूट दे रखी है उन्होने कहा आज कोई भी काम धरातल पर नजर नही आ रहा है उन्होने कहा एरच बांध का काम बन्द कर दिया गया है जबकि पूर्व की सपा सरकार के द्वारा 2018 में बांध का काम पूरा कर किसानों को पानी देने का लक्ष्य रखा गया था लेकिन बर्तमान सरकार की किसान विरोधी नीति के कारण बांध का कार्य बन्द कर दिया गया है।

पूर्ब बिधायक क्या बोले — उन्होने केन्द्र की मोदी सरकार पर भी जमकर हमला बोला और कहा उन्होने चुनाव में बादा किया था की एक के बदले दस सिर पाकिस्तानियों के लाये जायेगें जबकि अगर आकड़ों को देखा जाये तो सबसे ज्यादा सैनिक शहीद हो रहे हैं उन्होने केन्द्र की मोदी सरकार पर चुटकी ली और कहा आखिर कब लोगों के खातों में 15 लाख रूपये आयेगें इसका पता ही नही चल रहा है।
इस मौके पर नगर पंचायत अध्यक्ष महेश यादव मुखिया, सपा नेता अमोल सिंह यादव ,चन्दन सिंह यादव, अकरम काजी, , बीरेन्द्र सोनी, बृजेश यादव, छत्रपाल सिंह यादव, प्रभात सिंह तोमर, संजय दूर्वार, महेन्द्र कुमार सविता, चरन सिंह यादव, हरिश्चन्द्र यादव, अजयपाल माते, खलील अहमद, सतीश पचैरी, हाफिज शहाबुद्दीन, सुमित चैधरी, जितेन्द्र चैधरी, मुन्नू अग्रबाल, कुलदीप कुशवाहा, अल्लू खरे,राजू यादव आदि रहे।
रिपोर्ट – रमाकांत सोनी (एरच)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*