Check the settingsबिजली के तार टकराने से गिरी चिंगारी से मकान में लगी आग — Action News India
Breaking News
बिजली के तार टकराने से गिरी चिंगारी से मकान में लगी आग

बिजली के तार टकराने से गिरी चिंगारी से मकान में लगी आग

बरुआसागर (झाँसी) बरूआसागर थाना क्षेत्र के अतर्गत ग्राम चिपलोेैठा में एक मकान में अचानक लग जाने से मकान में रखे अनाज के लगभग 30 बोरे एवं भूसा जलकर राख हो जाने से ग्रह स्वामी फुटपात पर आ पहुंचा।
ग्रह स्वामी के अनुसार आग में लगभग 50000 हजार रूपये का नुकसान होने का अनुमान हें। कहा जाता हें कि आग मकान के बगल से निकली बिजली की लाईन में लगे तारों के आपस में टकरा जाने से तारों में से निकली चिगंगारी के कारण बताया गया।

आग लगने की सूचना मिलते ही बरूआसागर थाना पुलिस एवं 100 डायल पुलिस पीआरवी ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों की मदद से किसी आग पर काबू पाया

जानकारी के अनुसार ग्राम चिपलौठा निवासी रामनारायन विश्कर्मा ने बताया कि आज सायंकाल अचानक मकान के पास से निकले बिजली के खम्मों के तार आपस में टकरा बैठे।

जिसके चलते तारों से जोरदार चिंगारी निकल कर मकान पर आकर गिरी जिससे अचानक मकान में आग की लपटें उठती देख गाँव वालों ने आकर एक जुट होकर किसी तरह आग बुझा पायी।

जब तक सब जलकर स्वाहा हो गया। सुचना मिलने पर पुलिश ने मौका मुआयना किया। जानकारी के अनुसार ग्राम चिपलोेैठा निवासी रामनारायण विश्वकर्मा ने पुलिस को बताया कि मकान में भूसा एवं गेहूं के बोरे रखे हुए थे मंगलवार की अपरान्ह माकन के बगल में झूल रहे बिजली के तारों के आपस में टकराने से निकली चिंगारी इनके कच्चे मकान में जा गिरी जिसने धीरे धीरे  विकराल रूप ले लिया आग की लपटें उठती देख गाँव में शोर मच गया तथा गाँव वालों ने इकठ्ठे होकर पानी डालकर आग पर काबू पाया लेकिन इस दौरान मकान में रखा लगभग 30 कुंतल गेंहू एवं कई ट्राली भूसा छाँ छप्पर जलकर राख हो हो गया।

आग लगने की सुचना मिलने पर पुलिश भी मौके पर जा पंहुची तथा फायर विग्रेड को भी सुचना दी गई लेकिन फायर विग्रेड की गाडी मोके पर नहीं पहुंची गाँव वालों ने अपने घरों में रखा पानी एवं गाँव में पेयजलापूर्ति हेतु लगे टेंकर ने मौके पर पहुँच कर आग पर काबू पा लिया वरना आग की लपटें यदि आसपास का मकानों को अपनी जद में ले लेती तो एक बड़ा हादसा होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता था।

गाँव वालों ने बिजली के झूल रहे तारो को दुरुस्त करने की मांग की हें।

रिपोर्ट- विनोद अरजरिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*