Check the settingsजवाहर नहीं दीपक के डर से आज भी गुरसरांय आने से डरते हैं ये लोग — Action News India
Breaking News
जवाहर नहीं दीपक के डर से आज भी गुरसरांय आने से डरते हैं ये लोग

जवाहर नहीं दीपक के डर से आज भी गुरसरांय आने से डरते हैं ये लोग

झाँसी। आज भले ही दीप नारायण सिंह विधायक न हो, लेकिन गुरसराय क्षेत्र में आज भी चोर, उचक्के गुंडे, माफिया इस तरफ आने से डरते हैं । इसका मतलब यह नहीं कि यहां के विधायक जवाहर राजपूत है , बल्कि आज भी ऐसे लोग जानते हैं कि गुरसराय पर आज भी दीप नारायण सिंह की नजर है , और यहां के लोगों के लिए आज भी दीपनारायण सिंह विधायक की तरह ही है । यह किसी और ने नहीं बल्कि स्वयं दीप नारायण सिंह ने सपा उम्मीदवार डॉक्टर ओम प्रकाश अरजरिया के समर्थन में हुई एक जनसभा के दौरान कहा। इस दौरान पूर्व सपा विधायक दीप नारायण सिंह ने भाजपा पर निशाना साधते हुए यहां के लोगों से डॉ अरजरिया के पक्ष में मतदान करने की अपील की।

क्यों दें सपा को वोट?


व्यापारियों को साधते हुए दीपनारायण ने कहा कि केंद्र सरकार ने एक देश एक टैक्स के नाम पर जो जीएसटी लागू की है उससे देश का विकास नहीं बल्कि सरकार की सोच सामने आती है । सरकार कहीं न कहीं व्यापारियों को लुटेरा मानती है , और यही कारण है कि हर 3 माह में वह व्यापारियों से सारा हिसाब किताब जानना चाहती है । यही नहीं जनता को समझाते हुए कहा कि जो व्यापारी जीएसटी का विरोध कर रहे हैं , इसमें उनका कोई लाभ नहीं है , न ही व्यापारियों को खुद घर से इसका टैक्स भरना पड़ता है। इसका सारा टैक्स जनता से ही वसूला जाता है। लेकिन व्यापारी जनता के हित में जीएसटी का विरोध इसलिए कर रहे हैं , ताकि जनता की जेब न कट सके।

पूर्व सपा विधायक दीपनारायण सिंह ने कहा कि प्रदेश में बाबा जी की सरकार आए 9 महीने हो गए, लेकिन आज भी उनके पास एक भी बताने को काम नहीं है। इस दौरान उन्होंने कुछ समय पहले ही गुरसराय में हुई डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या की जनसभा पर चुटकी लेते हुए कहा कि आपने उनकी जनसभा सुनी होगी, एक भी ऐसे काम नहीं है जो वह जनता के बीच बता सके हों। दीप नारायण सिंह ने दावा किया कि जो काम बीते 15 सालों में गुरसराय नगर पालिका क्षेत्र में नहीं हुआ, वह समाजवादी सरकार ने केवल 5 साल में करके दिखाया है । आप लोग नगर पालिका के सरकारी आंकड़े देखकर इसकी जानकारी ले सकते हैं।

रिपोर्ट : अशुतोष नायक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*