Check the settingsखुलासा: आपके आधार कार्ड से बड़ी कम्पनियां ऐसे कर रही ठगी — Action News India
Breaking News
खुलासा: आपके आधार कार्ड से बड़ी कम्पनियां ऐसे कर रही ठगी

खुलासा: आपके आधार कार्ड से बड़ी कम्पनियां ऐसे कर रही ठगी

यूं तो सरकार ने सुरक्षा कारणों से लोगों को आधार कार्ड मुहैया कराया था। आधार कार्ड सरकार ने इस उद्देश्य भी मुहैया कराया था कि इससे आपके सारे तमाम कार्डों का काम होगा जो आप को जेब में लेकर घूमते थे । ऐसे में केवल आधार कार्ड की बलबूते आप देश के किसी भी कोने में घूम सकते हैं , क्योंकि आधार कार्ड से आप का पहचान पत्र, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, बैंक खाता, यहां तक की घरेलू गैस तक लिंक है , लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि यह आधार कार्ड जिसे आपने अपनी आंखों की पुतलियों और हाथों की उंगलियों के निशान से बनवाया है। वह आप की सुरक्षा में सेंध लगा रहा है । 

आजकल आधार कार्ड को लेकर YouTube पर तमाम तरह की वीडियो बनाये जा रहे हैं। इसमें एक तरफ जहां इसे सुरक्षित बताया जा रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ इसे असुरक्षित तक करार दिया गया है। यहां तक कि कुछ लोगों ने इसके साक्ष्य भी पेश की है।

द ट्रिब्यूनल के मुताबिक आधार कार्ड में दर्ज आप की गोपनीय जानकारी दो से ₹5 में कई कंपनियों को बेची जा रहे हैं । यहां तक कि WhatsApp ग्रुप के माध्यम से भी किसी भी व्यक्ति को इसे बेचा जा रहा है। एक रिपोर्टर ने जब उसका स्टिंग ऑपरेशन किया तो उसने महज 400 से ₹500 में सारा डाटा बेस खरीदा । इसके बाद सरकार में हड़कंप मचा तो फिर सफाई अभी सामने आई।

कैसे हो आधार की ठगी से सुरक्षित ?

पिछले साल जियो के दौर में भी आपने अपने अंगूठे का फिंगरप्रिंट और आधार नंबर देकर सिम खरीदी थी, लेकिन अब यह भी कहा जा रहा है कि आपके इसी आधार नंबर और केवल एक बार लगाए गए फिंगर से एक नहीं बल्कि 7 SIM एक्टिवेट हुई हैं। जाहिर है आपके नाम से अब भी देश में प्री एक्टिवेट सिमें घूम रही हैं । ऐसे में हर कोई इसको लेकर सतर्क होना चाहता है लेकिन कैसे? यह न तो YouTube पर आए दिन बनाई जा रही वीडियो में बताया जा रहा है , और न ही किसी न्यूज़ में ? जिससे लोग आधार को लेकर हो रही ठगी से अपने को सुरक्षित महसूस कर सके।

ऐसे हो सकते हैं सुरक्षित

आधार कार्ड के नाम पर होने वाली ठगी, धोखाधड़ी और आपके नाम से बाजार में घूम रही प्री एक्टिवेट सिम पर रोक लगाने के लिए सरकार ने एक नई तरकीब निकाली है , वह यह कि आप आधार की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पर जाकर आइडेंटिटी कर सकते हैं । कि आपके आधार के जरिए पिछले 6 माह में क्या-क्या ट्रांजैक्शन हुए। ऐसे में आप अपने पूरे खाते को देख सकते हैं,  और इसमें बताया जाएगा कि आप के आधार से क्या क्या लिंक है , और कहां-कहां लिंक है ? यहां तक कि आपके द्वारा एक्टिवेटेड सिम का भी इसमें विवरण होगा। इन तमाम ऑप्शन के दौरान यदि आपको लगता है कि यह चीज तो मैंने की ही नहीं , तो उस पर आप टिक कर इसकी कंप्लेंट कर सकते हैं।

भलाई की सप्लाई

यदि यह खबर आपको अच्छी लगी तो आप इसे अपने मित्रों को भी शेयर करें ताकि वह भी आधार कार्ड के नाम पर हो रही ठगी से बच सकें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*