मातृ सेवा की संकल्प यात्रा मां को स्कूटर पर बिठाकर 17 तीर्थस्थानों के दर्शन कराए



मैसूर .कर्नाटक के मैसूर में रहने वाले डॉक्टर कृष्णा कुमार मातृ सेवा की संकल्प यात्रा पर हैं। स्कूटर पर बिठाकर वे अपनी 70 वर्षीय मां को देश-दुनिया का सफर करा रहे हैं। पिछले डेढ़ साल में वे मां को देशभर के 17 तीर्थ स्थानों के दर्शन करवा चुके हैं। वे स्कूटर से नेपाल और भूटान भी जा चुके हैं।

हाल ही में वे असम के तिनसुकिया पहुंचे। उन्होंने बताया- यह उनकी मातृ सेवा संकल्प यात्रा है। यह यात्रा 16 जनवरी 2018 को मैसूर से शुरू की थी। अब तक वे चार हजार किमी से ज्यादा सफर कर चुके हैं। सबसे पहले वे कर्नाटक से केरल गए। फिर उन्होंने तमिलनाडु, पुडुचेरी, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, छत्तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और बिहार तक की यात्रा की। साथ ही इन राज्यों के तीर्थ स्थलों और धार्मिक स्थलों के दर्शन भी करवाए। अब वे अरुणाचल प्रदेश के परशुराम कुंड की तरफ यात्रा करने जा रहे हैं। वहीं, मां के प्रति इस प्रेम को देख लोग उन्हें 21वीं सदी का श्रवण कुमार कहने लगे हैं।

मां की छोटी से छोटी ख्वाहिश पूरी करते हैं कृष्णा :70 वर्षीय मां चूड़ारत्न बताती हैं कि मैं कृष्ण जैसा बेटा पाकर खुश हूं। जब से मेरे पति का निधन हुआ है, तब से वह मेरी देखभाल कर रहा है। इतना ही नहीं वह मेरी हर छोटी से छोटी ख्वाहिश को पूरा करता है। तीर्थयात्रा की ख्वाहिश पूरी करने के लिए वह मुझे स्कूटर से घुमा रहा है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Sankalp Yatra of Mother Sewa Presenting 17 places of pilgrimage on a scooter

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: