Check the settingsबेपरवाह टीचर, लापरवाह प्रशासन,और बड़े हादसे के इंतजार में पेरेंट्स, क्या स्कूल पहुंचेगे बच्चे? — Action News India
Breaking News
बेपरवाह टीचर, लापरवाह प्रशासन,और बड़े हादसे के इंतजार में पेरेंट्स, क्या स्कूल पहुंचेगे बच्चे?

बेपरवाह टीचर, लापरवाह प्रशासन,और बड़े हादसे के इंतजार में पेरेंट्स, क्या स्कूल पहुंचेगे बच्चे?

झाँसी। यह तस्वीर है झांसी के टहरौली क्षेत्र की। किसी भी घटना से बेपरवाह स्कूल वाहन लगातार जिले में ऐसे ही बच्चों को ढोने का काम कर रहे हैं । फिर चाहे अंजाम जो भी हो,क्योंकि इन्हें केवल पैसे पकाने से मतलब है । अब इस तस्वीर को देख कर किसे लापरवाह ठहराया जाए ? परमिट देने वाले परिवहन विभाग को, या जिस स्कूल के बच्चे इसमें सवार हैं वहां के प्रबंधन को. इस तस्वीर को देखकर जितनी लापरवाही स्कूल प्रबंधन और परिवहन विभाग की देखने को मिल रही है।

उससे कहीं ज्यादा लापरवाही उन अभिभावकों की भी है जो अपने बच्चों को ऐसी हालत में स्कूल वाहन से भेज रहे हैं। यह तस्वीर भले ही एक हो, लेकिन यह उदाहरण है झाँसी की उन सभी सड़कों की जहां अलख सुबह से स्कूल वाहन फर्राटे भरते हैं, और कुछ ऐसी ही हालत में बच्चों को ढोया जाता है ,और फिर कहीं न कहीं हादसे का शिकार हो जाते हैं।

Read this news :- नीलगाय को बचाते समय 14 बच्चों से भरी स्कूल वैन दुर्घटनाग्रस्त

घटनाओं के बाद अक्सर अभिभावक और आम लोग प्रशासन को जिम्मेदार ठहराते हैं, और वास्तव में इसको लेकर प्रशासन भी गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाते हुए हैं।

जब इस संबंध में एक्शन न्यूज़ के संवाददाता ने संबंधित विद्यालय के प्रबंधक से बात की तो उन्होंने यह वाहन उनके स्कूल का ना होने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया लेकिन उक्त वाहन के पीछे लटके स्कूली बच्चों की ड्रेस पर स्कूल का नाम साफ-साफ देखा जा सकता है।

गौरतलब है तो ऐसी तस्वीरें झांसी में हर रोज देखने को मिलती हैं जिनसे लगता है कि न तो झांसी में परिवहन विभाग है और न ही शिक्षा विभाग। क्योंकि स्कूली बच्चों को स्कूली वाहनों में कहीं भी भरकर लगातार ढोया जा रहा है लगातार हादसे भी हो रहे हैं लेकिन जिम्मेदार अधिकारी इसको लेकर बिल्कुल भी जिम्मेदारी नहीं दिखा रहे हैं।

फ़ोटो : रीतेश मिश्रा राघवेन्द्र