Check the settingsचुनावी रण में एक दूसरे का काट करने मैदान में उतरे चाचा-भतीजों के कई जत्थे — Action News India
Breaking News
चुनावी रण में एक दूसरे का काट करने मैदान में उतरे चाचा-भतीजों के कई जत्थे

चुनावी रण में एक दूसरे का काट करने मैदान में उतरे चाचा-भतीजों के कई जत्थे

गुरसराय/झांसी। देश और प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार अपने पांव जमाये हुए है । तो वहीं 6 महीने पूर्व विधानसभा चुनाव में बुंदेलखंड क्षेत्र में 19 में से 19 सीट जीतकर प्रदेश में एक तरफा जीत मिली है । जिसके बाद अब नगर निकाय चुनाव में पार्टी के टिकट को पाने के लिए नेताओ की लंबी कतारें लगी हुई है। ऐसा ही कुछ हाल झांसी जिले की गुरसराय नगर पालिका परिषद का है । यंहा से नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष पद हेतु डेढ़ दर्जन से भी अधिक लोगो ने आवेदन कर अपनी अपनी दावेदारी ठोकी है ।

आसमान से टपके-खजूर पर अटके

जिसमे 2012 में विधान सभा चुनाव में गरौठा क्षेत्र से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़े देवेश पालीवाल 2017 के चुनाव से ठीक पहले भाजपा में शामिल हुए थे, तब उन्होंने विधानसभा का टिकट मांगा लेकिन अंतिम वक्त पर टिकट न मिल पाने पर अब उन्होंने अध्यक्ष पद के लिए दावा ठोककर सभी को चोंका दिया ।

ये लोग भी लाइन में

इसके अलावा 2012 के नगर निकाय के चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी का समर्थन करने पर पार्टी से निष्कासित हो चुके युवा मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष जयपाल सिंह उर्फ राजू चौहान 2017 के विधान सभा चुनाव में पार्टी में सक्रीय हो कर एक बार फिर टिकट की दौड़ में शामिल हो गए है ।

इसके अलावा करीब एक दशक से भाजपा संगठन में लगातार कार्य कर रहे पूर्व जिला उपाध्यक्ष एव निवर्तमान जिला सदस्यता प्रमुख बद्री प्रसाद त्रिपाठी, शिक्षक अखिलेश पिपरैया, विष्णुदेव सेंगर, आवेश त्रिपाठी, पार्षद सुनील नामदेव, माणिकलाल सेन, मथुरा प्रसाद पांचाल, हाकिम सिंह चौहान, अरविंद पिपरैया समेत दर्जन भर से अधिक दावेदार सामने आये है । हरकोई भाजपा का झंडा उठाकर नगरपालिका पहुचने की फिराक में है । अब टिकट किसकी झोली में गिरेगा आने वाले समय मे ही पता चलेगा ।

एक दूसरे के विपक्ष में और भी हैं चाचा-भतीजे

एक ही परिवार के सदस्यों ने किए आवेदन
भाजपा से टिकट पाकर नगर पालिका पहुचने के लिए अब एक ही परिवार से दो प्रत्याशियों ने दावेदारी ठोकने में कसर नही छोड़ी है । जी हां, हम बात कर रहे है । जयपाल सिंह चौहान और हाकिम सिंह चौहान की जो एक ही परिवार से होने के बावजूद भी अपनी अपनी दावेदारी ठोकी है । तो वही चाचा भतीजे ने भी नगर पालिका के अध्यक्ष पद के लिए भाजपा से टिकट पाने की लाइन में शिक्षक अखिलेश पिपरैया एव अरविंद पिपरैया शामिल है ।

रिपोर्ट : शुभम पचौरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*